अपूर्ण तैयारियों के साथ बैठक कराने पर जेल अधीक्षक की फटकार

बदायूँ………….
गत बैठक में दिए गए निर्देशों का शत प्रतिशत अनुपालन न करने तथा वर्तमान बैठक का एजेंडा अपूर्ण होने पर जनपद न्यायाधीश नरेन्द्र कुमार जौहरी तथा जिलाधिकारी पवन कुमार ने कारागार अधीक्षक कैलाशपति त्रिपाठी की कड़ी फटकार लगाते हुए चेतावनी दी कि भविष्य में इस प्रकार की पुनरावृत्ति कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जिला कारागार में बंदियों की सुविधार्थ शीर्घ ही वीडियो कॉल की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाएगी।
सोमवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभाकक्ष में जिला कारागार में निरुद्ध बंदियों को और बेहतर सरकारी सुविधाएं कैसे उपलब्ध कराई जाएं, विचार विमर्श हेतु बैठक आयोजित हुई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए जनपद न्यायाधीश ने कारागार अधीक्षक की लापरवाही पर असंतोष व्यक्त करते हुए हिदायत दी कि कारागार के वरिष्ठ अधिकारियों से अनुमति प्राप्त कर शीघ्र ही वीडियो कॉलिंग की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। इससे मिलाई के लिए आने वाले लोगों की संख्या में कमी आएगी। उन्होंने टेलीफोन की भी व्यवस्था कराने के निर्देश दिए हैं, जिससे बंदियों के परिजनों से जिला कारागार से ही सीधी वार्ता कराई जा सके।
जिलाधिकारी पवन कुमार ने महिला बंदियों के साथ बच्चों की शिक्षा हेतु  बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि कारागार में कक्षा एक से आठ तक की सरकारी पुस्तकें उपलब्ध कराई जाएं। उन्होंने कारागार में स्वच्छ शौचालयों का निर्माण कार्य अब तक पूर्ण न होने पर सम्बंधित कार्यदायी संस्था को तलब किया है। डीएम ने आवश्कतानुसार जिला जेल में होमगार्ड की उपलब्धता भी सुनिश्चित कराने को कहा है। डीएम ने सीएमओ को भी आढ़े हाथ लेते हुए निर्देश दिए हैं कि कारागार में निरुद्ध बंदियों के स्वास्थ्य की जांच एवं उपचार हेतु मेडीकल कैम्प आयोजन में किसी प्रकार की लापरवाही को क्षम्य नहीं किया जाएगा। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि सीएमओ बंदियो के एचआईवी टेस्ट की भी व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महेन्द्र यादव ने बैठक में कहा कि कारागार की मांग के अनुसार समय-समय पर पुलिस बल उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि बंदियो के मनोरंजन हेतु सम्पूर्ण व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। कारागार में तीन हजार लीटर क्षमता का आरओ प्लांट शुरू हो गया है। इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव रणजीत कुमार, मुख्य विकास अधिकारी अच्छे लाल सिंह यादव, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अजय कुमार श्रीवास्तव सहित अन्य सम्बंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *