आठ दिन से गायब बालक का शव नाले मे पड़ा मिला

बदायूं। जाम लगाये लोगों से बात करते यासीन उस्मानी व आबिद रजा। मृतक के पिता शारिक उर्फ खिल्लू ने सदर कोतवाल व बजाज एजेंसी के स्वामी राजू आहूजा के विरुद्ध अपने बेटे का अपहरण कर हत्या करने की तहरीर दे दी, जो एसओ सिविल लाइन एके सिंह ने रिसीव कर ली, इसके बावजूद जाम लगा रहे लोग रोड से नहीं हटे। भीड़ की सिविल लाइन के एसओ से नोंक-झोंक भी हो गई, साथ ही उनकी बर्दी पर लगे बैज नोंच लिए, तो उन्हें पीछे हटा दिया गया। भीड़ में घुसे कुछ युवाओं का कहना था कि सदर विधायक को बुलाया जाये, तभी जाम खोलेंगे। साढ़े सात बजे के करीब विधायक मौके पर पहुंचे और उन्होंने कहा कि कार्रवाई नहीं हुई, तो यहाँ आजम खान आयेंगे, उनकी आजम खान से बात हो चुकी है, इस बीच उत्तर प्रदेश श्रम संविदा सलाहकार बोर्ड के अध्यक्ष यासीन उस्मानी भी मौके पर पहुंच गये, वे कुछ कह पाते, उससे पहले आबिद रजा ने कह दिया कि उठो, चलो, जाम खोल दो और जाम खुल गया। कई घंटे जाम लगे रहने से वाहनों की लंबी कतारें लग गईं, जिससे सैकड़ों लोग परेशान रहे।

मृतक के परिजनों को सांत्वना देते यासीन उस्मानी
उधर मासूम मोहम्मद हमजा के शव का मेडिकल परीक्षण हुआ, लेकिन खाल और मांस गल जाने से मृत्यु का कारण पता नहीं चला, जिससे बिसरा प्रिजर्व कर लिया गया, वहीं मृत्यु के पीछे बच्चे की भूल और पालिका की लापरवाही मानी जा रही है। पांच फुट गहरे नाले में चार फुट पानी जमा रहता है, इसीलिए बच्चे के लिए नाला ही काल बन गया। घनी बस्ती के बीच नाला खुला है, साथ ही बच्चों के निकलने के लिए रेलिंग की व्यवस्था कहीं नहीं की गई है, यही सब छुपाने के उददेश्य से शायद, विधायक घटना को अलग ही रंग देते नजर आ रहे हैं। बता दें कि विधायक चुने जाने से पहले आबिद रजा पालिकाध्यक्ष थे और वर्तमान में उनकी पत्नी फात्मा रजा पालिकाध्यक्ष हैं।
समाजवादी पार्टी से निकाले जाने के बाद आबिद रजा की हनक कम हुई है, पुलिस उनके यहाँ अब हाजिरी नहीं लगाती, साथ ही निरर्थक सिफारिशें भी नहीं मानती, इसलिए विधायक इस घटना का इस तरह लाभ लेने का प्रयास कर रहे हैं कि पुलिस के अंदर यह बात अंदर तक बैठ जाये कि वे सत्ता की मदद के बिना भी जिस अफसर को चाहेंगे, उसे रहने नहीं देंगे। फिलहाल कोतवाल उनके निशाने पर हैं। विधायक की चाल को पुलिस अफसर भी समझ रहे हैं, लेकिन सब कुछ जानते और समझते हुए भी मौन धारण किये हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *