उझानी: नगर के मुख्य मार्गों से अभूतपूर्व कलश यात्रा सुसज्जित झांकियों के साथ निकाली गई

बदायूँ………….(रिपोर्टर अंजार अहमद)
उझानी: अखिल विश्व गायत्री परिवार के तत्वावधान में नगर के मुख्य मार्गों से अभूतपूर्व कलश यात्रा सुसज्जित झांकियों के साथ निकाली गई। हजारों पीतवस्त्रधारी मातृशक्तियों और देवकन्याओं ने 24 तीर्थों के जल रज से युक्त शक्तिकलशों और युग ऋषि वेदमूर्ति तपोनिष्ठ पंडित श्रीराम शर्मा आचार्य के सद्साहित्य को सिर पर धारण किया। घर घर अलख जाएंगे हम बदलेगें जमाना और हम सुधरेंगे, जग सुधरेगा के जय घोष से नगरी गुंजायमान रहीं।
शांतिकुंज हरिद्वार से आए टोली नायक संदीप पाण्डेय ने कहा कि श्रद्धा वह प्रकाश है जो आत्मा को परिष्कृत कर सत्य का मार्ग दिखाती है। सात्विक श्रद्धा अंतःकरण को पवित्र करती है। मनुष्य अपनी छिपी शक्तियों को पहिचानें बिना शक्तिशाली नहींे बन सकता।
सहायक टोली नायक हरीशंकर यादव ने कहा कि श्रेष्ठ संस्कारों से मावन में देवत्व का उदय और धरती पर स्वर्ग का अवतरण संभव है। गायक रामवीर नेगी और महेश विश्वकर्मा ने प्रज्ञागीत कलश सिर धारण करो गीत की शानदार प्रस्तुति दी।
मातृशक्तियों ने वेदमंत्रोच्चारण कर शक्तिकलशों का पूजन कराया। कलश यात्रा देवनागरी इंटर कालेज से शुरू हुई और नगर के बिल्सी रोड, कछला रोड, स्टेशन रोड, मालगोदाम रोड, पंखा रोड होती हुई महात्मां गांधी पालिका इंटर कालेज के मैदान पहुंची। कलशयात्रा का मुख्य चैराहों पर पुष्प वर्षा कर भव्य स्वागत किया गया। इसके बाद मां गायत्री की आरती हुई।
शांतिकुंज हरिद्वार से आई टोली का ज्ञानेंद्र भारद्वाज, राजेंद्र प्रसाद गुप्ता, विमलेश, एनएल शर्मा, रामचंद्र प्रजापति, उर्मिला पाठक, महेश गुप्ता आदि ने स्वागत किया। इस मौके पर पूनम अग्रवाल, डीपी सिंह, शिवंवदा सिंह, नीलांशु अग्रवाल, प्रमोद पाठक, आर्येंद्र यादव, कुमुद सक्सेना, सीमा गुप्ता, पूनम अरोरा, शोभा जौहरी, मंजू मिश्रा, कल्पना मिश्रा, ममता शर्मा, भगवान सिंह, रामाधार, सोहन लाल, भुवनेश शर्मा, उदयभान गुप्ता, सुखपाल शर्मा, चंद्रपाल मिश्रा आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *