कासगंज: इसी माह नोडल अधिकारी करेंगे विकास कार्यो का निरीक्षण, अधिकारी रहें तैयार-जिलाधिकारी (रोहताश कुमार की रिपोर्ट)

कासगंज………….
31 दिसम्बर तक जो नगर निकाय नहीं हो पायेंगें ओ0डी0एफ0, उनके खिलाफ होगी कड़ी कार्यवाही
जिलाधिकारी आर0पी सिंह ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में कर करेत्तर, विकास/निर्माण व राजस्व कार्यो की समीक्षा बैठक ली। बैठक में जिलाधिकारी ने राजस्व कार्यो की समीक्षा में निर्देष दिए कि आबकारी, स्टाम्प, वाणिज्य कर आदि विभागों द्वारा संबंधित अधिकारियों से मिलकर आर0सी0 की वसूली करायी जाये, परिवहन कार्यालय से छापामार कार्यवाही करते हुए दलालों को हटवाया जाये, लोक निर्माण विभाग के गेस्ट हाउस में ठहरने वाले लोगों से निर्धारित धनराषि ली जाये जिससे गेस्ट हाउस की व्यवस्थायें भली प्रकार चलती रहे। नगर निकायों में सिढ़पुरा, पटियाली और सोरों की स्थिति अच्छी पायी गयी जिलाधिकारी ने अगले महिने तक समस्त नगर निकायों से षतप्रतिषत लक्ष्य प्राप्ति के निर्देष दिए और कहा कि अन्यथा की स्थिति में प्रतिकूल प्रविष्टि प्रदान की जायेगी।
       विगत बैठक में जिलाधिकारी ने समस्त विभागीय अधिकारियों से जिनकी विभागीय जमीन या सम्पत्तियों पर अवैध कब्जे हैं उन्हें चिन्हित कर कब्जे हटवाने की कार्यवाही करने के निर्देष दिए थे। उक्त संबंध में किस विभाग द्वारा क्या कार्यवाही अमल में लायी गयी इसकी भी समीक्षा की गयी।  जिलाधिकारी ने कहा कि इस कार्य में अगर किसी को कोई दिक्कत आये तो पुलिस बल का भी सहयोग प्रदान किया जायेगा।
     उन्होने कहा कि नगर निकाय चुनाव समाप्त हो चुके हैं अब सभी अधिकारी अपने-अपने विभागीय कार्यो/लक्ष्यांे को पूर्ण करें। 14वें वित्त आयोग का पैसा स्कूलों की चाहरदीवारी, लाईट व पेयजल व्यवस्था आदि पर व्यय करना सुनिष्चित किया जाये।
     समाज कल्याण की समीक्षा में छात्रवृत्ति, पेंषन, विधवा पेंषन तथा दिव्यांग पेंषन की भी समीक्षा की गयी जिसमें दिव्यांग पेंषन के ब्लाकों पर जाॅच हेतु लम्बित समस्त आवेदनों को 15 दिसम्बर तक स्वीकृत/अस्वीकृत कर संबंधित अधिकारी को भेजने के निर्देष प्रदान किये गये।
     राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत बताया गया कि गाॅवों में जो पात्र व्यक्ति ऐसे रह गए हैं जिनका राषन कार्ड नहीं बन पाया है और खाद्यान्न प्राप्त नहीं हो रहा है उनका रिसर्वे करने के निर्देष षासन से प्राप्त हुए हैं, इस पर बी0डी0ओ0 सर्वे कर अपनी रिपोर्ट प्रेषित करेंगें।
कृषि विभाग की समीक्षा में पारदर्षी किसान सेवा योजना, डी0बी0टी0 की भी समीक्षा की गयी। जिलाधिकारी ने निर्देष दिए कि गेहूॅ की सिंचाई का समय आ रहा है इसलिए समस्त नलकूप समय से ठीक करा लिए जायें। सिंचाई विभाग द्वारा नहरों की टेल तक सफाई का कार्य कराने से पूर्व व कार्य कराने के बाद वीडियोग्राफी करायी जाये।
     स्वच्छ भारत मिषन ग्रामीण/षहरी की विस्तार से समीक्षा की गयी जिसमें बताया गया कि अब तक 226 ग्राम व 106 ग्राम पंचायतें ओ0डी0एफ0 घोषित हुई हैं तथा कोई भी नगर निकाय ऐसा नहीं हैं जिसके षतप्रतिषत वार्ड ओ0डी0एफ0 हो। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि 31 दिसम्बर के बाद जो नगर निकाय ओ0डी0एफ0 घोषित नहीं होगी उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।
      बैठक में इसके अतिरिक्त विभिन्न प्रकार की पेंषनों के सत्यापन की भी समीक्षा की गयी, पेयजल पाइप परियोजना, खादय सुरक्षा अधिनियम, सड़क निर्माण, सेतु निगम, अमृत योजना, अपषिष्ट प्रबंधन, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, मनरेगा, नगरीय स्ट्रीट लाईट, राजस्व वादों के निस्तारण, आईजीआरएस की षिकायतो का निस्तारण, सम्पूर्ण समाधान दिवस की षिकायतों का निस्तारण आदि की भी विस्तार से समीक्षा की गयी।
    बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्रीनिवास मिश्र, अपर जिलाधिकारी राकेष कुमार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी रंगजी द्विवेदी सहित सभी विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *