चीनी मिलें शीघ्र करें अवशेष गन्ना मूल्य भुगतान: डीएम

बदायूं:  जिलाधिकारी सीपी त्रिपाठी ने बिसौली, न्यौली, रजपुरा एवं करीमगंज स्थित चार चीनी मिलों पर 34 करोड़ 90 लाख 96 हजार रूपए बकाया पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए शीघ्र गन्ना मूल्य भुगतान करने के निर्देश दिए हैं। शेखूपुर स्थित सहकारी चीनी मिल और फरीदपुर की चीनी मिल द्वारा शतप्रतिशत भुगतान कर दिया गया है।
सोमवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभा कक्ष में सांयकाल जिलाधिकारी ने जिला गन्ना अधिकारी डीके सैनी सहित विभिन्न चीनी मिलों के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर बकाया गन्ना मूल्य भुगतान तथा गन्ना विभाग के अन्य कार्यक्रमों, योजनाओं की गहन समीक्षा की। बैठक में राना शुगर मिल से किसी पदाधिकारी के उपस्थित न होने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई। उन्होंने समीक्षा के दौरान पाया कि बिसौली स्थित चीनी मिल पर 2428.49 लाख, रजपुरा 69.14 लाख, न्यौली 45.40 लाख एवं करीमगंज स्थित चीनी मिल पर 947.93 लाख कुल 34 करोड़ 90 लाख 96 हजार रूपए किसानों का बकाया है।
जनपद में गन्ना के रकबे का जीपीएस सिस्टम द्वारा सर्वे कराया गया था लेकिन शेखूपुर स्थित सहकारी चीनी मिल में जीपीएस सिस्टम न होने के कारण सामान्य तौर पर सर्वे किया गया था। सर्वे के उपरान्त पाया गया कि जिले में 20651 हैक्टेयर भूमि में गन्ने की खेती की गई है। जिलाधिकारी ने जनपद में चीनी मिलवार गन्ना के प्रगतिशील किसानों की सूची तैयार करने के निर्देश देते हुए कहा कि गन्ना मित्रों की भी संख्या में इजाफा किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *