डॉ.उर्मिलेश की 12वीं पुण्यतिथि पर दिखाई एक अनोखी राह

बदायूँ………..

डॉ उर्मिलेश की याद में आयोजित कार्यक्रम समाज के लिए दिखाई एक अनोखी राह
गीतकार, गजलकार एवं बदायूं महोत्सव के संस्थापक, संयोजक डॉ.उर्मिलेश की 12वीं पुण्यतिथि पर दिव्यांग बच्चों के बीच कल शाम किया गए आयोजन समाज के लिए एक मिसाल पेश की। उनकी स्मृति में स्थापित डॉ.उर्मिलेश जन-चेतना समिति की ओर से नगर के एकमात्र आवासीय एक्सीलेरेटेड लर्निग कैंप में रहने वाले श्रवण बाधित एवं दृष्टि बाधित बच्चों के के लिए बने नवनिर्मित हस्त प्रक्षालन व्यवस्था का शुभारंभ किया। डीएम अनिता श्रीवास्तव ने इस व्यवस्था का लोकार्पण किया। कैंप में रहने वाले प्रतिभावान बच्चों ने एक से बढ़ एक सांस्कृतिक कार्यक्रम किए। डीएम ने सर्वप्रथम हस्त प्रक्षालन व्यवस्था के शिलापट का अनावरण, मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन कर एवं माल्यार्पण कर किया। डॉ.उर्मिलेश के चित्र पर पुष्पार्णन कर उन्हें श्रद्धाजंलि देते हुए कहा कि डॉ.उर्मिलेश साहित्य एवं अपने विशेष व्यक्तित्व और साथ-साथ द्वारा पूर्व में किए गए विभिन्न सामाजिक कार्यों के कारण सदैव याद किए जाएंगे। उन्होंने नन्हें-मुन्ने बच्चों को सराहते हुए उनकी हौसला हफजाई और इंसाफ की डगर पे बच्चों दिखाओं चल के गीत भी सुना कर बच्चो की हौसला अफ़ज़ाई की । उन्होंने समिति के अनुरोध पर आवासीय कैंप की समस्याओं के निराकरण का भी आश्वासन दिया और ईओ नगरपालिका को सख्त आदेश भी दिए। जिलाधिकारी के इस कार्यवाही का सभी तालियां बजा कर स्वागत किया। कार्यक्रम में जनचेतना समिति द्वारा जिलाधिकारी को रेडक्रास सोसाइटी द्वारा अभी हॉल में पुरस्कृत किए जाने पर उनका विशेष सम्मान किया गया। दिव्यांग होनहार बच्चों ने सरस्वती वंदना, स्वागत गीत प्रस्तुत किया। डॉ.उर्मिलेश के पौत्र आगम अशेश ने उनकी कविता प्रस्तुत की बच्चों की प्रस्तुति को उपस्थित सभी लोगों द्वारा सराहा गया। समिति के संरक्षक एवं रोटरी इंटरनेशनल के समंवयक श्यामजी शर्मा ने डॉ.उर्मिलेश के व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि डा.उर्मिलेश असीमित ऊर्जा के धनी व्यक्ति थे, वह समाज, साहित्य, संस्कृति की त्रिवेणी के रुप में बदायूं, संपूर्ण प्रदेश और सम्पूर्ण राष्ट्र में विशिष्ट श्रेणी में रहे। समिति के सचिव डॉ.अक्षत अशेष ने कहा कि समिति निरंतर ऐसे सकारात्मक कार्यों के लिए कृतसंकल्प हैं जो मार्ग डॉ.उर्मिलेश ने प्रशस्त किया है। इस अवसर पर आयोजन में नगर मजिस्ट्रेट श्रीराम यादव, बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रेमचंद्र यादव, ईओ नगरपालिका लाल चंद्र भारती, समिति की अध्यक्ष मंजुल शंखधार, डॉ.एसके गुप्ता, अशोक भारती, रजनीश गुप्ता, चंद्र प्रकाश दीक्षित, डॉ.रामबहादुर व्यथित, सुन्दरलाल अरोरा, डॉ.विष्णुप्रकाश मिश्र, डॉ.भास्कर शर्मा, दीपक सक्सेना, परविन्दर सिंह दुआ, नरेश चन्द्र शंखधार, सोनरुपा विशाल, रिचा अशेष, डा.प्रतिभा मिश्र, पूर्णिमा गुप्ता, रजनी मिश्र, कमलेष ज्ञानी, राहुल चौबे, जगदीश शर्मा, विवेक खुराना, सौरभ शंखधार, विनोद कुमार सक्सेना, कैम्प में कार्यरत शिक्षक राजेश मौर्य, ब्रजभूषण सिंह, इक़बाल असलम, इज़हार अहमद, हिमांशु चतुर्वेदी, कामेश पाठक, सचिन सूर्यवंशी, शांतनु दुबे आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम में उपस्थित लोगों ने समिति के इस अनूठे प्रयास के सराहना की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *