पत्रकार गौरी लकेंश की हत्या के विरोध मे जिले भर से आये पत्रकारों ने किया धरना प्रदर्शन।

शाहजहाँपुर…………(रिपोर्टर अश्वनी शुक्ला)

पत्रकारों ने राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा

जिले के पत्रकारो ने शुक्रवार को बंगलौर की पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या और पत्रकार पंकज मिश्रा पर हमले के विरोध मे सड़कों पर जुलूस निकालकर महामहिम राष्ट्रपति के नाम सम्वोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौपकर पत्रकारो पर हो रहे हमलो पर विरोध जताया। पत्रकारो ने चेतावनी दी कि यदि उनपर हो रहे हमले के जिम्मेदारों पर अगर कार्रवाई नाही होती है तो आंदोलन को उग्र रूप दिया जाएगा। जिले के तमाम  पत्रकार   पी डब्ल्यू डी गेस्ट हाउस मे एकत्र हुये और वहाँ मीटिंग के बाद तमाम  पत्रकार वरिष्ठ पत्रकार रमेश  शंकर पांण्डेय व राजीव गुप्ता  के नेतृत्व मे नारेबाजी करते हुये कचहरी चौराहे पहुचे, जहां पत्रकार गौरी लंकेश के हत्यारो और पत्रकार पंकज मिश्र के हमलबरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जमकर नारेबाजी की। जिसके पश्चात समस्त पत्रकार  जिलाधिकारी कार्यलय  पहुचे और जमकर नारेवाजी करते हुये जिलाधिकारी नरेन्द्र सिंह को ज्ञापन सोपा ।ज्ञापन मे पत्रकारो ने कहा कि पत्रकारिता को लोकतन्त्र के चौथे स्थान पर स्थापित करने ,उसे सम्मानजनक स्थान दिलाने के लिय पत्रकारों ने ख़ासी कुर्बानियाँ दी हैं। आजादी की लड़ाई मे न जाने कितने कलमकारों की जाने गयी। पर दुखद पहलू यह है कि आजादी के बाद भी कई पत्रकारों को सच्चाई और ईमानदारी का खामियाजा अपनी जान देकर भुगतना पड़ा है। बंगलूर मे पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद हम पत्रकार जन हतप्रभ हैं और साथ ही आक्रोशित भी। शाहजहाँपुर मे पत्रकार जगेंद्र सिंह की हत्या के बाद आजकल भी यदाकदा पत्रकारों पर हमले ,उन्हे धमकाने और फर्जी मुकदमो मे फाँसने के मामले सामने आते रहे है। पत्रकारो ने एक स्वर मे ज्ञापन मे पत्रकारो की सुरक्षा पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुये कहा कि पत्रकारों पर आए दिन जानलेवा हमले हो रहे हैं। यह हमले समाचार छपने या दिखने से बौखलाए अपराधी किस्म के लोग करते या करवाते हैं। इस पर कठोर से कठोर कार्रवाई करते हुए हमलावरों या शडयंत्रकारियों को एक समय सीमा के अंदर गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए। देशभर के पत्रकारों पर आए दिन फर्जी मुकदमे लिखवा कर उनका उत्पीड़न किया जा रहा है। इसके लिए एक विशेष कमेटी बनाकर पहले उससे जांच कराई जाए तत्पश्चात् किसी तरह का कोई मुकदमा दर्ज कराया जाए ताकि पत्रकारों का उत्पीड़न बंद किया जा सके। ज्ञापन देने वाले पत्रकारों मे रमेश शंकर पांडे कौशलेन्द्र मिश्र ,राजीव गुप्ता ,अभिनय गुप्ता,रोहित यादव, अनिल मिश्रा, रोहित पांडे,राम गुलाम राठौर ,विवेक वर्मा ,व्यास शुक्ला ,आशीष ,जगदीश, एल के मिश्र ,उदित शर्मा ,अनुज ,आदेश मिश्रा ,आरती यादव ,ज्ञान प्रकाश ,सुशील ,रवीद्र सिंह बजाज राहुल अवस्थी ,विमलेश आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *