प्ररेणा परिवार ने दिया छात्रा छात्राओं को हिन्दी गौरव सम्मान

शाहजहाँपुर……………

हिन्दी दिवस नहीं पूरे वर्ष की भाषा है – प्राचार्या रानी त्रिपाठी (प्रेरणा परिवार ने छात्र-छात्राओं को दिया “हिन्दी गौरव” सम्मान)

पुवायाँ-साहित्य सेवा को समर्पित साहित्यिक संस्था “प्रेरणा परिवार” द्वारा हिन्दी उत्थान हेतु हाईस्कूल व इण्टर में  हिन्दी विषय में सर्वाधिक अँक प्राप्त करने वाले छात्र छात्राओं को “हिन्दी गौरव सम्मान” प्रदान कर सम्मानित किया |

इस सम्मान हेतु नगर के चार इण्टर कालेजों का चयन किया जिसमें पुवायाँ इण्टर कालेज पुवायाँ से सूरज कुमार निवासी ग्राम महुआ पाठक (इण्टर) , हैदर अली ग्राम बड़ागाँव (हाईस्कूल) ,

प्रेमचन्द्र स्मारक इण्टर कालेज से अभय कुमार पुवायाँ (इण्टर) , कीर्ति सिंह चौहान ग्राम महुराइन (हाईस्कूल) ,
राजकीय कन्या इण्टर कालेज से माधुरी  पुवायाँ (इण्टर) , लक्ष्मी देवी  पुवायाँ (हाईस्कूल) व
सरस्वती विद्या मंदिर इण्टर कालेज से अमरेन्द्र सिंह पुवायाँ (इण्टर) , अजय प्रताप सिंह  पुवायाँ (हाईस्कूल) इन सभी आठ छात्र छात्राओं को कार्यक्रम की मुख्य अतिथि प्राचार्या डा. रानी त्रिपाठी , विशिष्ठ अतिथि डा. सुधीक गुप्ता , प्रेरणा परिवार संरक्षक अरुण कुमार सक्सेना एडवोकेट व कार्यक्रम संयोजक शशांक मिश्र भारती द्वारा सम्मान पत्र , साहित्यिक पुस्तकें व पांच सौ रुपया नकद प्रदान किये गये इससे पूर्व अतिथियों ने माँ शारदे के चित्र समक्ष माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलित किया | कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रधानाचार्य  जेपी मोर्या ने की |
मुख्य अतिथि प्राचार्या डा. रानी त्रिपाठी ने विचार व्यक्त करते कहा ये गर्व का नीषय है कि हमारी मातृ भाषा हिन्दी को विदेशो में भी पढ़ा व सम्मान दिया  जाता है मगर हम सब ही अपनी भाषा से दूर भाग रहे हिन्दी एक दिवसीय भाषा नहीं कि हिन्दी दिवस मना कर बैठ जायें हिन्दी पूरे वर्ष की भाषा है इसे दिन प्रतिदिन अपने ह्रदय में बसाये रखना है |

विशिष्ठ अतिथि डा सुधीर गुप्ता ने कहा हिन्दी पूरे देश में पढ़ी व जानी जाती है अहिन्दी प्रदेशों में भी हिन्दी को आसानी से समझ सिया जाता है हिन्दी में सुलेख लिखाया जाता था ताकि लेख अच्छा हो मगर अब सुलेख लेखन समाप्त ही नजर आता |

प्रेरणा परिवार संरक्षक अरुण कुमार सक्सेना ने कहा इंग्लिश मीडियम स्कूलों में बच्चे हिन्दी विषय ही नहीं लेते यह एक बड़ी बिडम्वना है यह चिन्तन का विषय है आज अँग्रेजियत हावी होती जा रही है , अँग्रेजी सीखे मगर हिन्दी से दूर न हों |

  1.      मंच संचालन प्रेरणा परिवार संस्थापक विजय तन्हा ने किया इस अवसर पर डा. राकेश मिश्रा , मानवेन्द्र सिंह , राजकुमार वर्मा , सुमित सिंह , संजय मिश्रा , अमिता शुक्ला ,  राजीव शर्मा , सीपी सिंह , राजीव राजे , जेपी गुप्ता ,रमेश शुक्ला , संजय अकेला , ब्रजेश सिंह सहित तमाम छात्र मौजूद रहे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *