बदायूँ: गांधी जी के बताए गए आदर्शो पर चलकर दूसरां की करे मददः डीएम

बदायूँ : राष्ट्रपिता मोहनदास कर्मचन्द गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी का जन्मदिवस सम्पूर्ण जनपद में हर्षाल्लास के साथ मनाया गया। कलेक्ट्रेट सहित सभी सरकारी एवं गैर सरकारी संस्थानों में ध्वजारोहण किया गया। गांधी जी के द्वारा बताए गए सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चलने का निर्णय लिया गया। गांधी जी के बताए गए शुद्ध विचारों पर सभी अधिकारी एवं कर्मचारी कार्य करें। अधिकारी एवं कर्मचारियों को जो पद मिला है उस पर इमानदारी से कार्य करके गरीबों की मदद करें। असली खुशी तब मिलती है जब दूसरों की मदद करोगें।
मंगलवार को कलेक्ट्रेट परिसर में जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने प्रातः आठ बजे ध्वजारोहण करने के पश्चात राष्ट्रपिता मोहनदास कर्मचन्द गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की प्रतिमा पर मार्ल्यापण करे पुष्प अर्पित किए। इस मौके पर जिलाधिकारी ने जनपद वासियों को बधाई देते हुए कहा कि गांधी जी सत्य और अहिंसा के पुजारी थे। यही कारण है कि आज भी उन्हें देश के साथ-साथ पूरे विश्व में भी याद किया जाता है। गांधी जी ने इतनी विपरीत परिस्थितियों में भारत को आजादी कैसे दिलाई। उन्होंने कहा कि मन की शांति ही सच्ची शांति होती है। भले ही कितने शांति में क्यों न हो लेकिन जब मन में शोर होता है तब तक शांति नहीं मिल सकती। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उन्होंने गरीबी से उभरकर अपने कार्य के वल पर स्वंय की पहचान देश की उन महानपुरुषों में सम्मिलित कराई जिनको वर्षों तक याद किया जाता रहेगा। उन्होंने कहा कि यदि हम भी गांधी जी के बताए गए मार्ग पर चलें तो मन की शान्ति के साथ-साथ स्वंय को भी सुखद अहसास होगा। गांधी जी सत्य और अहिंसा के पुजारी होने के साथ-साथ साफ-सफाई को भी बहुत पंसद किया करते थे।सभी लोग साफ-सफाई एवं स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें। अपने अपने कार्यालयों की साफ सफाई एक बार फिर से अच्छे ढंग से कर लें। अपने आसपास के वातावरण को स्वच्छ बनाए।
स्वच्छता ही सेवा जो गांधी जी का सपना था उस सपने में सभी लोगों को शामिल होकर पूर्ण करना है। उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि गांव में भी शहर की तरह विकास हो। जो जिस पद पर कार्यरत है वह दूसरों की मदद करें। उन्होंने कहा कि बरसात का समय समाप्त हो गया है अब समस्त अधिकारी अपने-अपने कार्यालयों को साफ-सुथरा एवं सुंदर फिर से बना लें। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व महेन्द्र सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन रामनिवास शर्मा, नगर मजिस्ट्रेट सुनील कुमार एवं वरिष्ठ कोषाधिकारी हरीश चन्द्र यादव सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *