बदायूं:  छात्र, छात्राओं की टीमें गांव में जाकर लोगों करे जागरुक

बदायूँ : जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने ग्रामों को साफ-सफाई युक्त बनाने के लिए ग्रामों में तैनात सफाई कर्मचारियों को निर्देश देते हुए कहा कि 15 अगस्त 2018 तक ग्रामों को गन्दगी से मुक्त किया जाए और शत-प्रतिशत शौचालयों का निर्माण कराकर शौच युक्त बनाया जाए। डीएम द्वारा डायट के छात्र, छात्राओं को शौच के बारे में तथा ग्रामों में गन्दगी के बारे में जाग्रत करने के निर्देश दिए और इनसे होने वाली बीमारियों के बारे में भी बताया गया। ग्रामों में बीमारी, गन्दगी, खुले में शौच, पोलीथिन का प्रयोग और पानी का दुरूपयोग जैसी समस्यायें अभी तक पूर्ण रूप से समाप्त नहीं हुई है। इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए जिलाधिकारी ने नुक्कड नाटक के माध्यम से लोगों की आदतों में सुधार लाने के लिए और उनकी आदतों को बदलने पर विचार करते हुए डायट की प्राचार्य बीना यादव को इसकी जिम्मेदारी देते हुए स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण बदायूॅ के जिला सलाहकार अनुराग शुक्ला को दायित्व सौंपा है। डायट के छात्र, छात्राओं को प्रशिक्षण देने के साथ-साथ उनकी टीम गठित करते हुए उन्हे जल्द से जल्द गॉव में भेजने का आदेश दिया है।
जिलाधिकारी के समक्ष डायट की छात्राओं ने अपने हुनर को प्रदर्शित करते हुए नुक्कड नाटक के माध्यम से ग्रामों में छोटी-छोटी लापरवाही की वजह से बडी-बडी समस्याओं का जिक्र किया और उसके साथ-साथ समस्या से छुटकारा पाने के तरीकों का वर्णन करते हुए उपाय भी बताया। अन्तिम चरण संगीत के माध्यम से शौचालय बनवाने, साफ-सफाई रखने, पोलीथिन का वहिस्कार और पानी बचाना हमारे लिए कितना जरूरी है इस पर मधुर गीत गाया अन्त में स्वच्छ बदायूॅ स्वस्थ्य बदायूॅ, बिन्दास बदायूॅ जिन्दावाद का नारा लगाते हुए और अपने कायक्रम को सम्पन्न किया।
जिलाधिकारी ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए डायट की छात्राओं को इस कार्यक्रम में और सुधार लाने व अच्छा कार्य करने की सलाह देते हुए जिला सलाहकार अनुराग शुक्ला को निर्देश दिए कि ज्यादा से ज्यादा छात्र, छात्राएं इसमें प्रतिभाग करें इसी क्रम में इनकी व्यवस्था करने व गॉवों में भेजने का कार्य पूर्ण करें। इस अवसर पर कु0 नरेश सिंह सोलंकी, कुसुम कुमारी प्रक्वता डायट, आनन्द लता शर्मा मैजूद रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *