बसपा सरकार बनना तय, भ्रामक प्रचारों से रहें सावधान : मायावती

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुश्री मायावती ने गुरुवार को यूपी कार्यालय में पार्टी पदाधिकारियों के समक्ष बैठक में कहा है कि सर्वसमाज के समर्थन से बसपा की सरकार बनना तय है लेकिन चुनाव के दौरान सर्वे कराने वाली एजेन्सियां कांग्रेस व भाजपा समेत अन्य विरोधी पार्टियों के पक्ष में हवा बनाने का काम कर रही हैं। इसलिए चुनाव के दौरान जोश के साथ-साथ पूरी समझदारी व सावधानी बरतने की जरूरत है।

सुश्री मायावती गुरुवार को यूपी कार्यालय में पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक कर रही थीं। उन्होंने कहा कि मीडिया भी चुनावी सर्वे में हवा बनाने में सहयोग करता है। इसलिए जमीनी स्तर पर पार्टी का जनाधार बढ़ाने पर खास ध्यान दिया जाए। उन्होंने जमीनी स्तर पर पार्टी का जनाधार बढ़ाने के लिए मिशनरी गतिविधियां जारी रखने के निर्देश दिए।

उन्होंने कांशीराम की पुण्यतिथि पर 9 अक्तूबर को लखनऊ आए कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देते हुए कहा कि प्रदेश में फिर से पूर्ण बहुमत की सर्वजन हिताय व सर्वजन सुखाय वाली सरकार बनेगी। कार्यक्रम के दौरान सपा शासन की लापरवाही से हुई दो लोगों की मौत पर गहरा दु:ख भी व्यक्त किया।

सुश्री मायावती ने कहा कि सपा, भाजपा व कांग्रेस जैसी विरोधी पार्टियां साम, दाम, दण्ड, भेद आदि अनेक हथकण्डे अपना कर व बड़े-बडे पूंजीपतियों व धन्नासेठों के धन बल पर लोगों को बरगलाने के मामले में धुरंधर हैं।

सपा सरकार पर हमला:

उन्होंने सपा सरकार पर हमला बोला कि दलितों व अन्य पिछड़े वर्गों में जन्मे महान सन्तों, गुरुओं के आदर-सम्मान में पूर्व में बसपा सरकार द्वारा बनाए गए भव्य स्थल, स्मारक व पार्कों आदि को फिजूलखर्ची का नाम देकर इनका अपमान करना और डा़ अम्बेडकर ग्रीन गार्डेन का नाम बदल कर जनेश्वर मिश्र पार्क करना ही क्या समाजवाद है? उन्होंने कहा कि लोहिया पार्क, समाजवादी संग्रहालय, इटावा में मौज-मस्ती के लिए ‘लायन सफारी व सैफई महोत्सव आदि पर सरकारी खर्च करना और उसे सही व उचित ठहराना सपा सरकार का दोहरा, जातिवादी, विद्वेषपूर्ण चाल, चरित्र, चेहरा व कृत्य (कर्म) नहीं तो और क्या है?

प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया:

बैठक में पार्टी के जिम्मेदार लोगों ने 9 अक्तूबर को हुई घटना पर अपनी रिपोर्ट सौंपी, जिसमें रैली में मची भगदड़ के लिए प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया गया। बैठक में पार्टी संगठन के साथ-साथ भाईचारा संगठन की कमेटी के सम्बन्ध में भी ताजा रिपोर्ट लेने व गहन समीक्षा करने के बाद सुश्री मायावती ने कहा कि विपक्षी पार्टियां प्रदेश में बसपा के लोगों का मनोबल गिराने के लिए ही कई तरह के हथकण्डे अपनाएंगी जिनसे जनता को वोट पड़ने तक सावधान रहना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *