बालिकाओं को आग से बचाव, बुझाने के तरीकों और उपचार बताये।

बदायूँ………..अखिल विश्व गायत्री परिवार के तत्वावधान में अम्बियापुर क्षेत्र के गांव दबिहारी में चल रहे आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण शिविर का तीसरे दिन समापन हो गया। बालिकाओं को आग से बचाव, बुझाने के तरीकों और उपचार का प्रशिक्षण दिया गया।
गायत्री परिवार के संजीव कुमार शर्मा ने कहा कि बालिकाऐं प्राकृतिक आपदाओं से मुकाबला करने के लिए तैयार रहें, भयभीत न हो। बाढ़, भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाऐं चेतावनी देती हैं। इसके बाबजूद हम प्रकृति के नियमों को नहीं मान रहे। मानवनिर्मित इमारतों के टूटने, आग लगने, भूस्खलन और सुनामी से भारी तबाही होती है। युवा भूकंपरोधी भवनों के निर्माण के लिए प्रेरित करें। आपदा के दौरान घायलों का उपचार करें, खून बहना रोकें। गर्भवती महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गाें की पहले सहायता करें।
उसहैत से आए पंकज कुमार ने कहा कि बालिकाएं संपूर्ण श्रेष्ठताओं और उत्कृष्टताओं की सृजेता और राष्ट्र की प्रत्येक समस्या का समाधान हैं। प्रज्ञा मंडल के भवेश शर्मा ने कहा कि बच्चों का अद्भुत कौशल देश को मजबूती प्रदान करता है।
बालिकाओं को आग लगने पर लोगों को बचाने, आग बुझाने, आग के नजदीक रखी चीजों को हटाने, सावधानियों के अलावा आग से जलने और झुलने पर उपचार का प्रशिक्षण दिया गया। इस मौके पर संध्या शर्मा, कुलदीप, सुमन शर्मा, किशनलाल शर्मा, पूनम शर्मा, अंजलि शर्मा, देववती शर्मा, रेशमादेवी, वेदवती शर्मा, तेजराम शर्मा, पूजा शर्मा, संगीता, आकाश, सोनू, आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *