बीएलओ घर घर जाकर करें वोटर लिस्ट का सर्वेःडीएम

बदायूं: जिलाधिकारी पवन कुमार ने विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र की फोटोयुक्त मतदाता सूची को शतप्रतिशत त्रुटि रहित बनाए जाने के निर्देश देते हुए बीएलओ को हिदायत दी है कि वह घर घर जाकर सर्वे करें और सभी मृृतक मतदाताओं के नाम वोटर लिस्ट से हटाते हुए नए मतदाताओं तथा नव विवाहित महिलाओं का वोटर लिस्ट में नाम शामिल किया जाए।
जिलाधिकारी शनिवार को औचक रूप से तहसील सदर पहंुच गए और एक एक बीएलओ से रूबरू होते हुए उनके कार्य की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची के पुनरीक्षण कार्य में तेजी लाई जाए। डीएम ने पुरूषों के सापेक्ष महिला मतदाताओं का प्रतिशत कम होने पर असंतोष जताते हुए कहा है कि सभी बीएलओ प्रयास करें कि कोई भी महिला मतदाता पंजीकरण कराने से वंचित न रहे। एक जनवरी, 2017 को 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाला कोई भी युवक तथा युवती मतदाता बनने से वंचित न रहे। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि नाम शामिल कराने के लिए फार्म 6, कटवाने के लिए 7 तथा संशोधन के लिए 8 और एक ही विधान सभा क्षेत्र के अन्तर्गत एक मतदेय स्थल से दूसरे मतदेय स्थल में नाम स्थानान्तरण हेतु फार्म 8क जितनी संख्या में प्राप्त हों उन सभी को प्रतिदिन आॅनलाइन फीड किया जाए। इस कार्य में शिथिलता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने नगर मजिस्ट्रेट श्रीराम यादव को निर्देश दिए कि वह यह सुनिश्चित करलें कि सभी बीएलओ के पास मतदाता सूची हर समय उपलब्ध रहे। उन्होंने बीएलओ को निर्देशित किया कि एक सर्वे पंजिका बनाई जाए जिसमें प्रत्येक परिवार के सदस्य का नाम, मोबाइल नम्बर, आयु और लिंग तथा आधार नम्बर दर्ज होना चाहिए जिससे यह पता लगाया जा सके कि एक घर में कितने लोग मतदाता बने हुए हैं और कितने बनाए जाना शेष हैं।
जिलाधिकारी ने हिदायत दी है कि मतदाता बनाने के लिए स्कूल से सम्बंधित आयु प्रमाण पत्र को ही ज्यादा तरजीह दी जाए। ग्राम प्रधानों तथा सदस्यों, निकाय के अध्यक्षों और सभासदों द्वारा जारी आयु प्रमाण पत्र शतप्रतिशत सटीक नहीं हो सकते इसलिए स्कूली अभिलेखों को ही सही माना जाए। उन्होंने दूसरे नम्बर पर आधार कार्ड के आधार पर आयु दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि फिलहाल मतदाता सूची में एक हजार पुरूषों के सापेक्ष 808 महिला मतदाता हैं जबकि पुरूषों के सापेक्ष 859 महिला मतदाताओं का प्रतिशत होना चाहिए। सभी बीएलओ महिला मतदाताओं और शादी के बाद गांव में आने वाली महिला मतदाताओं के पंजीकरण पर विशेष ध्यान दें। जिलाधिकारी ने वोटर लिस्ट से मृृतक मतदाताओं के नाम कम काटे जाने पर रोष व्यक्त किया। बैठक में एसडीएम सदर जंग बहादुर यादव, परिवीक्षाधीन एसडीएम नीतीश कुमार और तहसीलदार, पदाभिहीत अधिकारी और बीएलओ  मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *