बैंक कर्मचारी कुछ जगह कर रहे काला धन को सफेद

सहसवान: देश भर में चल रहे नोट बन्दी अभियान को लेकर जगह जगह बैक के बहार लम्बी कतार लगी है पर इसको बैक कर्मचारी अनदेखा कर रहे है वो लोग अपने चहेते लोगो का काला धन सफेद करने में जुटे है और उपभोक्ता अपने पैसे को ही धक्के खा रहा है एक तरफ हमारे देश के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने बड़े विशवास के साथ बैक के कर्मचारियों को ये एक बहुत बड़ी जिमेदारी दी थी इस जिमेदारी को निभाने में असफल है जबकि जनता हर दुःख दर्द सहने को तैयार है वो सरकार का साथ दे रही है वो इसका कारण जनता जनती है की इस अभियान से काला धन छुपा निकलेगा और इस भारत में बेईमान लोग एक अपराध के दायरे में आयेगे और इससे काला धन निकलेगा और हमरा भारत उन्नति करेगा बैंको पर तीन बजते ही बोर्ड लगा दिया जाता है केश नही या अब जमा नही होंगे सुबह चार बजे से लाइन खड़े लोग मायूस होकर लोट जाते हैं उसके बाद शुरू होता है काले को सफेद करने का धंधा पुलिस भी इस काम में पीछे नही अपने चहेते को बे रोक टोक अंदर जाने देती है और गरीव लाइन टेडी हो जाने पर लाठियां खाता है ।शाम होते ही दलाल सक्रिय हो जाते है फिर शुरू होता है काले को सफ़ेद करने का खेल नोट बदली के दौरान जिन गरीवों ने दो हजार का पर्चा भरा था । उन फार्मो की भी जांच होनी चाहिए बैंक कर्मियों ने उनका गलत इस्तेमाल तो नही किया ।रात के अंधेरे में सफेदपोश धन्नासेठ पिछले रास्ते से बैंक में जाते हैं और बड़े आराम से काला धन सफेद कर चले जाते हैं इन रसूखदार लोगों को बैंक कर्मी सिंग्नल दे देते है कि पांच बजे के बाद आना जव बैंक बंद हो जाये और गरीव दिनभर लाइन में खड़ा होकर नम्बर न आने पर बापस चला जाता है ।इनकी मदद को कोई नही आता और वोट मांगने का टाइम आता है तो नेता इन मेले कुचैले गरीव मजदूरों को भी गले लगा लेते है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *