भूमि विवादों में मौके पर जाए संयुक्त टीम : डीएम

बदायूँ :जिलाधिकारी अनिता श्रीवास्तव ने निदेर्शित किया है कि थाना स्तर पर प्रत्येक माह के प्रथम एवं तृतीय शनिवार को आयोजित होने वाले समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों का आपसी समझौते से प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण सुनिश्चित कराया जाए। ठियाबन्दी के बाद भी मेढ़ तोड़ने वालों के साथ कोई रियायत न बरतें और उनके विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराएं।
शनिवार को जिलाधिकारी ने थाना आलापुर में औचक रूप से पहुंचकर आयोजित समाधान दिवस में जन शिकायतों को सुना। यहां मात्र तीन शिकायतें भूमि विवाद से सम्बंधित प्राप्त हुईं। डीएम ने समस्याओं को सुनते हुए निर्देश दिए हैं कि भूमि विवादों में राजस्व और पुलिस विभाग के अधिकारियों की संयुक्त टीम मौके पर जाकर जांच करे और विवाद को आपसी समझौते के आधार पर निस्तारित कराए। सार्वजनिक सम्पत्तियों पर अवैध कब्जे के मामलों को गम्भीरता पूर्वक लिया जाए। गत समाधान दिवस में मात्र एक शिकायत भूमि विवाद से सम्बंधित प्राप्त हुई थी उसका समाधान कराया जा चुका है। डीएम ने कहा कि राजस्व निरी़क्षक तथा लेखपाल जनता और जिला प्रशासन के बीच की ऐसी कड़ी है जिसे अपने अपने क्षेत्रों की प्रत्येक गतिविधि तथा दैवीय आपदा से सम्बंधित घटनाओं पर विशेष ध्यान रखना चहिए। आवश्यकतानुसार अपने वरिष्ठ अधिकारियों को भी अवगत कराना चाहिए। समाधान दिवस में उप जिलाधिकारी दातागंज रण विजय सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रकाश कुमार तथा एसएचओ अतुल प्रधान भी मौजूद रहे।
समाधान दिवस में ककराला के वार्ड नम्बर 17 निवासी रिफाकत ने उनके खेत पर दबंगों द्वारा जबरदस्ती कब्जा करने तथा ककराला के ही नरेश पाल ने पट्टे की भूमि पर कब्जा करने एवं सलेमपुर की धनदेवी ने बैनामा कराने पर कब्जा न मिलने की शिकायत की। डीएम ने निर्देश दिए कि भूमि विवाद के मामलों में संयुक्त टीम मौका मुआयना कर आपसी समझौते के आधार पर निस्तारित कराए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *