मण्डलायुक्त ने गंगा किनारे बसे गांवों का किया निरीक्षण

बदायूँ…………..
लेखपाल, आशा और आशा संगिनी को चेतावनी एवं ग्राम विकास अधिकारी को प्रतिकूल प्रविष्टि
सरकार की मंशा के अनुरूप नमामि गंगा एक्शन प्लान के तहत गंगा किनारे बसे गांवों को खुले में शौच मुक्त कराने हेतु मण्डलायुक्त बरेली मण्डल बरेली पीवी जगनमोहन ने जिलाधिकारी अनिता श्रीवास्तव एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों सहित ग्राम डकारा पुख्ता का निरीक्षण किया। गांव पहुँचकर मण्डलायुक्त ने ग्रामीणों की समस्याओं को सुना तथा प्राप्त शिकायतों के निस्तारण हेतु प्रार्थना पत्र सम्बंधित अधिकारियों को सौंप दिए।
शुक्रवार को मण्डलायुक्त बरेली मण्डल बरेली पीवी जगनमोहन ने ग्राम डकारा पुख्ता पहुँचकर ग्रामीणों से वार्ता करते हुए खुले में शौच की हानियों से अवगत कराया। उन्होंने कहा खुले में शौच करना एक मानसिक बीमारी है, अपनी इसी मानसिकता को खत्म करके एक स्वच्छ वातावरण का निर्माण करें। उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए स्वच्छ शौचालयों को भी देखा। यहां 388 स्वच्छ शौचालय बनाने का लक्ष्य था, जिसके सापेक्ष 266 स्वच्छ शौचालय पूर्ण कर लिए गए हैं। मण्डलायुक्त ने मुख्य विकास अधिकारी शेषमणि पाण्डेय को निर्देश दिए कि तीन टीमें गठित कर सम्पूर्ण गांव का निरीक्षण किया जाए। मण्डलायुक्त ने स्वच्छ भारत मिशन अभियान में गंभीरता न लेने के लिए ग्राम विकास अधिकारी राम औतार शर्मा को प्रतिकूल प्रविष्टि दी है तथा लेखपाल रामनाथ एवं आशा और आशा संगिनी कल्पना सक्सेना को चेतावनी देते हुए काम में सजगता बरतने के निर्देश देते हुए कहा कि एक सप्ताह में सभी प्रकार की समस्याओं को निस्तारित करें। उन्होंने ग्रामीणों से वार्ता करते हुए कहा कि प्रत्येक ग्रामीण को शौच के लिए स्वच्छ शौचालय को ही प्रयोग में लाए तथा शौचालय में कोई जानवर बकरी आदि न बांधे और न ही भूसा आदि भरें। इस प्रकार की शिकायत मिलने पर कठोर कार्यवाही करते हुए आरोपी को जेल भेजा जाएगा। जो परिवार शौचालय बनाने में सक्षम हैं, स्वयं शौचालय का निर्माण करें, ऐसा न करने वालों के विरुद्ध कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। स्वच्छता समिति की टीमें रात्रि में गांव में जाकर जागरुकता के लिए शॉर्ट फिल्म दिखाई जाएगीं। इस मौके पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व हवलदार यादव, अपर जिलाधिकारी प्रशासन अजय कुमार श्रीवास्तव सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *