मुरादाबाद: बिलारी के गांव रामनगर गंगपुर में अपात्रों को आवास देने की शिकायत पर जांच करने पहुंचे एडीओ पंचायत खेम सिंह। (हिलाल अकबर की रिपोर्ट)

मुरादाबाद बिलारी। ब्लॉक के गांव रामनगर गंगपुर में अपात्रों को आवास देने की शिकायत मुख्य सचिव लखनऊ से की गई थी। जिसकी जांच जिला स्तर पर एडीओ पंचायत कुंदरकी खेम सिंह को सौंपी गई। शनिवार को एडीओ पंचायत कुंदरकी खेम सिंह गांव में पहुंचे। शिकायतकर्ता सोनू यादव को साथ लेकर प्रधान पक्ष को भी मौके पर बुलाया गया और गांव में सभी लाभार्थियों के आवास चेक किए गए। जांच के दौरान शिकायतकर्ता पक्ष और प्रधान पक्ष में नोकझोंक होती हुई दिखाई दी। इसके अलावा कुछ गांव वासियों का कहना है कि तालाब का सौंदर्यकरण नहीं कराया गया जो सूखा होने पर उस में उपले के बटोरे और कूड़ा कबाड़ भरा हुआ है। एडीओ पंचायत खेम सिंह ने बारीकी से जांच करते हुए सारी समस्याओं को नोट किया। शिकायतकर्ता सोनू यादव का कहना था कि एक ही परिवार में तीन आवास दिए गए हैं जो अपात्र हैं और कहा कि खरंजे में पुरानी ईंटें लगाई गई है और नई ईटों का बिल पास कराया है। गांव के विकास में पूरी तरह से मनमानी तरीके से ग्राम प्रधान बिजेन्द्र सिंह ने काम किया है। उधर ग्राम प्रधान विजेंद्र सिंह यादव का कहना है कि मैंने मानक के अनुसार गांव का विकास कराया है पात्रों को ही आवास दिए गए हैं और शिकायतकर्ता पक्ष पर विकास कार्यों में बाधक बनने का आरोप लगाया है जांच के दौरान अनेकों ग्रामीणों की भीड़ मौजूद रही।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *