मुरादाबाद: मिल परिसर में गन्ना बुवाई को लेकर हुआ किसान गोष्ठी का आयोजन। (हिलाल अकबर की रिपोर्ट)

मुरादाबाद बिलारी। बिलारी के राजा का सहसपुर स्थित श्री अयोध्या शुगर मिल में एक किसान गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिस में गन्ना बुवाई के लिए ट्रेंच विधि के बारे में विस्तार से बताया। इसके अलावा कृषि वैज्ञानिकों ने गन्ने की खेती के साथ अनेक फसलों को उपजाऊ बनाने के लिए अनेक विधि बताईं। मिल बीपी हेमंत कुमार ने बताया कि आगामी पेराई सीजन 2018 19 के दौरान सामान्य प्रजाति की पेड़ी गन्ने की खरीद अधिकतम 15 सितंबर से प्रारंभ कर दी जाएगी। सभी से यह अनुरोध किया कि आपको किसी के बहकावे में आकर सामान्य प्रजाति के पौधे को जोतकर नष्ट ना करें तथा इसकी पेड़ी अवश्य लें इसके अलावा बताया कि आगामी पेराई सत्र 2018 19 के दौरान कोजा 088 प्रजाति को सामान्य श्रेणी में रखा जाएगा एवं अस्वीकृत प्रजाति जैसे को से 92423 कोसा 91 269 आदि की खरीद नहीं की जाएगी। इसके अलावा पेड़ी प्रबंधन के लिए कहा कि जिस गन्ने की पेड़ी रखनी हो उस की कटाई 1 फरवरी के बाद ही करनी चाहिए अन्यथा ठंड होने से पेड़ी का फुटाव प्रभावित होगा। पौधे गन्ने की कटाई करते वक्त ठुंठ नहीं छोड़नी चाहिए ताकि सभी कल्ले जमीन के अंदर से विकसित हो। पौधा गन्ना काटने के तुरंत बाद 5 किलोग्राम प्रति बीघा यूरिया डालकर सिंचाई कर देनी चाहिए। इससे पुरानी जड़े जलकर जल्दी विकसित होंगी। पेड़ी गन्ने में ओट आने पर हल अथवा कल्टीवेटर के द्वारा जुताई करें ताकि पुरानी जड़ें जल्दी नष्ट हो जाए तथा नई जड़ों का विकास तेजी से हो इसके अलावा अनेक वक्ताओं ने अपने अपने विचार रखे गन्ने की बुवाई को लेकर विस्तारपूर्वक वहां पहुंचे किसानों को जानकारी से अवगत कराया। इस मौके गन्ना समिति के चेयरमैन अरविंद मोहन, गन्ना विकास परिषद के चेयरमैन कपिल राज यादव, कृषि विज्ञान केंद्र से डॉक्टर मोहन सिंह, गन्ना कैन मैनेजर प्रवीण सिंह, मिल बीपी हेमंत कुमार, एससीडीआई बिलारी सुरेश कुमार, एससीडीआई भीलवाड़ा, जिला गन्ना अधिकारी डॉक्टर सुभाष यादव आदि सहित अनेको मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *