मुरादाबाद: लुटेरी दुल्हन को वास्तविक पति संग किया गिरफ्तार- भेजा जेल। (हिलाल अकवर की रिपोर्ट)

मुरादाबाद -बिलारी । तहसील क्षेत्र के थाना मैनाठेर के गांव जनकपुर में बिचौलिया जसवंत सिंह के सहारे योगेश पुत्र महेंद्र सिंह निवासी जानकपुर थाना मैनाठेर से शादी का षड्यंत्र रच कर शादी के अगले दिन भाई बहन बने वास्तविक पति पत्नी शादी का जेवर सहित मोटरसाइकिल लेकर परिजनों को सोता छोड़ फरार हो गए थे सोमवार को डींगरपुर चौराहे पर कहीं जाने की फिराक में नाजो चौधरी से बनी प्रीति पत्नी रोहित निवासी इंदिरा कॉलोनी थाना कटघर मुरादाबाद और वास्तविक पति रोहित पुत्र जितेंद्र उर्फ पप्पू निवासी इंदिरा कॉलोनी थाना कटघर मुरादाबाद को शक के आधार पर मैंने पुलिस ने दबोच लिया और जेल भेज दिया। पहले तो इन्होंने अपना नाम झूठा बताया लेकिन कड़े से पूछताछ की गई तो प्रीति ने बताया कि हमारी शादी दो साल पहले हुई थी पिता ठेके पर पेंट का काम करते हैं हम चार बहनें हैं और दो भाई प्रीति ने बताया मेरे पिता का नाम फुरकान चौधरी निवासी छोटी मछली मनिहारान रामपुर है मेरी पहली शादी रामपुर के हरिश्चंद्र भाटिया से हुई थी जो टूट कर फैसला हो गया था इसके बाद मैं पूजा पत्नी अनूप सिंह निवासी काशीराम योजना थाना मझोला मुरादाबाद के संपर्क में आई जिसने मुझे ब्यूटी पार्लर की दुकान पर नौकरी के लिए लगा दिया था पूजा की मौसी का लड़का रोहित अपनी मौसी के यहां आता जाता रहता था जिससे ढाई साल पहले मुझे प्रेम प्रसंग हो गया फिर हम ने शादी कर ली फिर रोहित ट्रांसपोर्ट नगर मेरठ में काम करने चला गया रोहित ने नागर नाम के एक व्यक्ति  से ₹15000 ब्याज पर उधार लिए थे जो रोहित नहीं लौटा पाया तब नागर ने गजरौला में रहने वाले भगत जी नाम के व्यक्ति के साथ मिलकर लोगों के साथ प्रीति की शादी का झांसा व धोखा धड़ी कर धन वसूलने का षड्यंत्र रचने की योजना बनाई तब हम भगत जी के घर पर गजरौला में ही भाई बहन बन कर रह रहे थे भगत जी द्वारा गाया वाला के अरुण नाम के व्यक्ति से मेरे पति रोहित ने ₹2000 लेकर षड्यंत्र रचा हम लोग वहां से भाग आए इसके बाद अंडाल पुर थाना नखासा के जसवंत सिंह पुत्र मैथिली से संपर्क हुआ तो उसने प्रीति की शादी ग्राम जनकपुर निवासी योगेश पुत्र महेंद्र सिंह से शादी का षड्यंत्र रच दिया फिर 27 अक्टूबर 2017 को प्रीति की शादी योगेश से कराई गई शादी के अगले दिन रोहित जो प्रीति का वास्तविक पति है उसका रोल भाई के रुप में रखा गया था उसने 28 अक्टूबर को परिजनों को सोता देख घर में रखें 110000 रुपए के जेवरात और लाल रंग की Passion Pro मोटरसाइकिल लेकर फरार हो गए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *