मुरादावाद: बिलारी में हुआ इमाम अहमद रजा खान कॉन्फ्रेंस आयोजन

मुरादावाद…(रिपोर्ट हिलाल अकबर बिलारी)
बिलारी नगर के मोहल्ला अंसारीयान स्थित  फुलवार वाली मस्जिद के पास एक कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया जिसमें उलेमा इकराम ने बरेली में शुरू हो रहे उर्स ए आला हजरत पर ख़िताब किया और उसमें हाजिरी देने का आह्वान किया गया रविवार की देर शाम कॉन्फ्रेंस की शुरुआत तिलावते कुरान से की गई कॉन्फ्रेंस में मुख्य रूप से आए संभल के मुफ्ती मोहम्मद इकराम ने बरेली में सोमवार को शुरू हो रहे ओर से आला हजरत पर ख़िताब किया और उनकी हालत है जिंदगी पर चर्चा की इसके अलावा उन्होंने खिताब में कहां की जो रसूले अकरम की सुन्नतों पर चलता है वह कभी परेशान नहीं रहता, मोमिन वह होता है जो तिलावते कुरान करता है, बुराई से बचते है ,नमाज पढ़ता है , सच्चों के साथ रहता है ,बुरे हम कामों  से बचता नजर आता है तो समझ लो कि वह मोमिन है दिल्ली से आए मौलाना मुफ्ती नाजिम रजा ने अपनी खिताब में कहा कि इमाम अहमद रजा खान बरेली की सरजमीं पर पैदा हुए और उन्होंने 4 साल की उम्र में कुरान शरीफ का नाजरा मुकम्मल कर लिया 22 साल की उम्र में महारेरा शरीफ जाकर खिलाफत ले ली उन्होंने इस्लाम के खिलाफ चल रहे थे फितनों से निपटने के लिए 1400 किताबें लिखी और वद अक़ीदा लोगों को मुंहतोड़ जवाब दिया इसके अलावा मौलाना फारूक देहलवी ने रसूले अकरम की शान में नात शरीफ पेश की इस दौरान मौलाना अखलाक हुसैन ,मौलाना रफीक अहमद, मौलाना सदाकत हुसैन ,मौलाना जाकिर हुसैन, मौलाना नफीस उल कादरी, मौलाना मोहम्मद आजम, मुफ्ती नसीम अहमद, हाफिज समी हसन, हाफिज मोहम्मद नाजिम, हाफिज मोहम्मद अजीम, हाफिज मोहम्मद यामीन के अलावा मोहम्मद नबी ,मोहम्मद तौफीक रजा, मोहम्मद रिजवान, हाजी मोहम्मद इकबाल, साबिर हुसैन ,डॉक्टर अनवर हुसैन आदि सहित अनेको मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *