मुसलमानों को शक की नजर से देखती हैं मायावती 2017 में नहीं है मुझे मुसलमानों पर भरोसा

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष कुमारी मायावती ने कहा है कि अगर मुसलमान इस बार ग़द्दारी न करे तो प्रदेश में बसपा बहुमत की सरकार बना सकती है।कल राज्यसभा और एमएलसी के लिए प्रत्याशियों के नाम तय करने के बाद अपने आवास पर कोआर्डिनेटरों के साथ आगामी विधान सभा चुनाव पर चर्चा करते हुए मायावती ने कहा कि मुसलमान हमेशा बसपा को धोखा देता है हमे इनसे होशियार रहना है ।इसी लिये मैं   राज्यसभा और एमएलसी का पद किसी मुसलमान को नहीं दूँगी। उन्होंने कहा पहले 2017 में मुसलमान बसपा को वोट दे कर वफादारी साबित करे ।मायावती ने कहा कि विधानसभा और लोक सभा में हमने मुसलमानों को टिकट दिये ।मगर मुसलमानों ने हमें वोट नहीं दिया। उन्होंने कहा कि पार्टी में जो सिस्टम चल रहा है उससे हट कर किसी को टिकट नहीं दिया जायेगा।उन्होंने कहा कि कुछ सीटों पर शिकायते मिली हैं कि कोआर्डिनेटरों ने निर्धारित शुल्क से 50 लाख रूपये तक बढ़ा कर प्रत्याशियों से पैसे लिए ।हमने कार्रवाई भी कर दी है।उन्होंने कहा कि हमे हर हाल में 2017 में सत्ता हासिल करनी है । समाजवादी पार्टी से आम जनता नाराज़ है मगर मुसलमान आज भी सपा से ही चिपका हुआ है।उन्होंने नसीमुद्दीन की तरफ इशारा करते हुए कहा कि मुसलमानों को जोड़ने की ज़िम्मेदारी हर बार लेता है मगर जोड़ नहीं पाता ।पता नहीं क्यों ये मुसलमान होने के बावजूद अपनी पैठ मुसलामानों में आज तक नहीं बना पाया।उन्होंने कहा की 2007 में हमने बहुमत की सरकार बनाई और नसीमुद्दीन को कई महत्वपूर्ण विभागों का मंत्री बना कर पूरा पावर दिया फिर भी ये मुसलमानों को बसपा से जोड़ने में असफल रहा है।2014 के लोकसभा चुनाव में मुज़फ्फरनगर दंगों के बावजूद मुसलमानों ने सपा को ही वोट दिया।इसलिए इनपर भरोसा नहीं किया जा सकता।मायावती ने कहा कि हमने सारे विकल्प खुले रक्खे हैं। 125 सीटों पर उतारे गए मुस्लिम उम्मीदवार ही हमारी सरकार बनवायेंगे।क्योंकि अगर इन सीटों पर बसपा नहीं जीती तो कम से कम सपा उम्मीदवार तो हार जायेगा।इन सीटों पर या तो बसपा या फिर भाजपा जीतेगी  ।उन्होंने कहा हमारा लक्ष्य भाजपा को नहीं सपा को हराना है।उन्होंने कहा कांग्रेस को मुसलमानों ने ही कमज़ोर किया ।आज की स्थिति में यूपी में कांग्रेस अपना खाता भी नहीं खोल पाएगी।उन्होंने कहा अगर हम सरकार नहीं बना पाये तो कोई नहीं बना पायेगा। भाजपा को मजबूरन बसपा की ही सरकार बनवानी पड़ेगी। उन्होंने कहा दलित बसपा के साथ हमेशा एकजुट रहा है।ये कभी गुमराह नहीं होता ।उन्होंने कहा कि मौजूदा विधायकों के टिकट नहीं कटेंगे।अगर वो क्षेत्र में काम करें मेहनत करें ।उन्होंने कहा अगले माह घोषित प्रत्याशियों को समीक्षा की जायेगी ।कमज़ोर प्रत्याशी बदले जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *