उझानी: वृद्व ने फांसी के फंदे पर झुलकर दी जान/घर में मचा कोहराम। (अंजार अहमद की रिपोर्ट)

बदायूँ/उझानी। आज थाना क्षेत्रांर्तगत एक गांव के जंगल में एक वृद्ध ने पेड़ से लटककर फाँसी लगा ली।मौत की खबर सुनते ही परिवार में मचा कोहराम।घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा है।

मिली जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्रांर्तगत ग्राम छतुईया निवासी छत्रपाल पुत्र रामलाल ( 52 ) वर्षीय आज करीब घर से दोपहर में घर से चले गये थे और उन्होंने छतुईया के जंगल में शीशम के पेड़ पर चढ़कर अपने अंगोछे से फांसी लगा ली और उनकी चप्पलें उसी शीशम के पेड़ के नीचे रखी हुई मिलीं।छ्त्रपाल की ज़ेब में मोवाईल फोन भी था जो बराबर बज रहा था जब उस फोन में देखा तो 95 मिस्ड काल थीं।छत्रपाल के छोटे बेटे जगत ने बताया कि उसके पापा छ्त्रपाल ने आज करीब 5 बजे फोन पर उससे बात की थी और कहा था कि मैं अब तुझे कभी नहीं मिलूंगा यह कहकर फोन काट दिया।तो उसके वेटे ने सोचा न मालुम क्या बात है और वह फौरन चन्दौसी से अपने घर आ गया तो गांव में उसे मालुम पड़ा कि उसके पिता छ्त्रपाल ने फांसी लगा ली है।छ्त्रपाल के वेटे जगत ने बताया कि उसके पिताजी को एक लड़की उझानी में मिल गयी थी तो उसके पिता ने उसकी शादी अपने वेटे से करा दी थी और जगत ने यह भी बताया कि उसकी भाभी की उसके भाई से नहीं बनती थी और आये दिन झगड़ा होता रहता था।जगत ने वहीं यह भी बताया कि उसकी भाभी आज किसी वकील के मुंशी के साथ कचहरी से गांव वापस आयी थी और उसके पिता बस द्वारा आये थे और उसकी भाभी ने कुछ ऐसी बातें कह दीं थी जिस वजह से उसके पिता ने फाँसी लगाई है।

घटना की सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस से एस०आई संजय शर्मा,एस० आई राकेश वर्मा व शिवेन्द्र सिंह भदौरिया के साथ कांस्टेबिल भी मौके पर पहुंचे।घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से शव को पेड़ से उतारा और शव को पोस्टमार्टम हाउस भेजा है।गांव छतुईया में जैसे ही यह दिल दहला देने वाली घटना का पता चला तो वहाँ ग्रामीणों की भीड़ लग गयी।छत्रपाल के परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *