SBI ने ब्लॉक किये 6.25 लाख ग्राहकों के ATM कार्ड, 32 लाख कार्ड की डेटा चोरी का डर

नई दिल्ली : स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने 6.25 लाख ग्राहकों के एटीएम कार्ड ब्लॉक कर दिये हैं. बैंक ने कहा है कि थर्ड पार्टी एटीएम यानी दूसरे बैंकों के एटीएम पर संदेहास्पद ट्रांजैक्शन के चलते ग्राहकों की डेटा की सुरक्षा के लिए यह कदम उठाया गया है. यह पहला मौका है जब भारत के किसी बैंक ने इतने बड़े पैमाने पर एटीएम कार्ड ब्लॉक किया है. जानकारों का कहना है कि लगभग 32 लाख डेविट कार्ड का डिटेल्स व पीन नंबर चोरी हो गये हैं. इसे देश में वित्तीय आंकड़ों की अबतक की सबसे बड़ी सेंध बताया जा रहा है. मालवेयर के जरिए सूचनाएं – चोरी हो गयी हैं.

 

एसबीआइ, एचडीएफसी, आइसीआइसी बैंक, यस बैंक, एक्सिस बैंक इसके शिकार हुए हैं. जिन 32 लाख कार्डों के डेटा की चोरी की आशंका जतायी गयी है उनमें 26 लाख वीजा व मास्टरकार्ड व छह लाख रुपे कार्ड हैं.

एसीबीआइ ने कहा है कि सूचना मिली थी कि कुछ ग्राहक वायरस से प्रभावित एटीएम का उपयोग कर रहे हैं. एसबीआइ ने यह कदम बिना ग्राहकों को पूर्व सूचना दिये उठाया, हालांकि बाद में इ-मेल भेज कर ग्राहकों को नये कार्ड बनाने के आवेदन देने को कहा है.

एसबीआइ के एक प्रमुख अधिकारी ने कहा है कि जब वायरस से प्रभावित एटीएम या स्विचेज में आप अपने एटीएम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो डेटा चोरी होने का खतरा बढ़ जाता है. उन्होंने ऐसे खतरे दूसरे बैंकों के सामने उत्पन्न होने की बात भी कही.

 

ब्लॉक किये गये कार्ड में एसबीआइ के सहयोगी बैंकों स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर, स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर और स्टेट बैंक ऑफ पटियाला के एटीएम भी शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *