बदायूँ: डीएम ने दो चिकित्सको के निलंबन के दिए निर्देश 

बदायूँः जननी सुरक्षा योजनांतर्गत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जगत में सबसे कम लाभार्थियों का भुगतान होने पर तथा बिना अनुमति के अवकाश पर जाने पर डीएम ने डॉक्टर पवन कुमार, समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उसावां के डॉक्टर केके को निलंबन के निर्देश दिए है। समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आसफपुर की आशा, स्टाफ नर्स ज्योति एवं बिसौली स्टाफ नर्स की सेवा समाप्ति करने के निर्देश दिए गए है।
सोमवार को कलेक्ट्रेट के सभागार में जिला अधिकारी दिनेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ समिति की बैठक आयोजित की गई। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग की प्रगति रिपोर्ट संतोषजनक न पाए जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए समस्त चिकित्सकों को कड़े निर्देश दिए कि सीएससी तथा पीएचसी पर ही रुककर गरीबों लोगों का इलाज करें जिससे गरीब लोग झोलाछाप डॉक्टरों से बच सकें। समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उसावां के डॉक्टर केके मीटिंग में न आने पर डीएम ने एसएचओ उसवां से फोन पर वार्ता कर समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तत्काल भेजकर निरीक्षण कराया तो अनुपस्थित नही मिले और पता करने पर बताया गया कि स्वास्थ्य केंद्र मुख्यालय पर नही रुकते हैं। उन्होंने सीएमओ को निर्देश दिए कि जो आशाएं गर्भवती महिलाओं को प्रसव के लिए प्राइवेट अस्पतालों में ले जाने का कार्य कर रही है ऐसी आशाओं तथा जो स्टाफ नर्से बिना सोचे समझे रेफर प्राइवेट अस्पतालों को कर देती है, चिन्हित कर उनकी सेवा समाप्त कर दी जाए। गर्भवती महिलाओं का प्रसव होने जाने के बाद तत्काल उनके खाते में धनराशि भेजी जाए।
डीएम ने बैठक में अनुउपस्थित डॉक्टरों का स्पष्टीकरण लेने के लिए निर्देश दिए हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी जिला अस्पताल एवं महिला अस्पताल का प्रतिदिन निरीक्षण करें तथा प्रभारी चिकित्सा अधिकारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण कर आख्या उपलब्ध कराएं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधूरे कार्यों को एक सप्ताह में पूर्णकर अगली बैठक में उपलब्ध कराएं। समस्त स्वास्थ्य केंद्रों पर आवश्यक दवाओं की अपूर्ति बराबर रहे। डीएम ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी राजेंद्र प्रसाद को निर्देश दिए कि सभी स्वास्थ्य केंद्रों की साफ सफाई एवं रंगाई-पुताई 10 दिनों के अंदर करना सुनिश्चित कराएं। सभी अस्पतालों में कुत्ता काटने की दवा उपलब्ध रहे। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी रमेश चंद्र, डॉ मंजीत सिंह, डॉ0 अनिल कुमार शर्मा, डॉ0 कौशल गुप्ता, डॉ0 गुंजन सहित अन्य चिकित्सक मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *