बिल्सी: आर्य समाज के संस्थापक महर्षि दयानंद का जन्म दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

बिल्सी : तहसील क्षेत्र के ग्राम गुधनी में स्थित आर्य समाज मंदिर में आज आर्य समाज के संस्थापक महर्षि दयानंद का जन्म दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर आचार्य संजीव रूप के निर्देशन में यज्ञ हुआ ! यज्ञ के उपरांत आर्य संस्कारशाला के बच्चों ने कार्यक्रम प्रस्तुत किए ! सुप्रसिद्ध वैदिक विद्वान आचार्य संजीव रूप ने कहा “महर्षि दयानंद ने आर्य समाज की स्थापना करके जहां देश को आजाद कराया वहीं देश में व्याप्त छुआछूत ,जातिवाद, भाषावाद और सब प्रकार के ईश्वर के नाम पर किए जाने वाले पाखंड को दूर भगाया! उन्होंने वेदों का भाष किया और सबको समझाया कि मत, मजहब ,घर परिवार सबसे बढ़कर राष्ट्र होता है..! प्रत्येक नागरिक को अपने राष्ट्र के प्रति समर्पित रहना चाहिए और चरित्रवान होना चाहिए! सत्यम आर्य ने भजन गाया..
” श्री स्वामी दयानंद जी जगाया आपने हमको  बड़ी कृपा हुई भगवान उठाया आपने हमको  यीशु आर्य ने भजन गाया ..”आओ सुनें क्या कहा है ऋषि ने, उपकार कितना किया है ऋषि ने। प्रश्रयआर्य ने भजन गाया ” दयानंद धरती पर गुजरात की चमका किरण बनके प्रभात की
इस अवसर पर राकेश आर्य, मास्टर साहब सिंह ,सोनपाल सिंह, अरविंद सक्सेना, अर्चना रानी ,दुष्यंत सिंह ,मनोज कुमार डॉ नेत्रपाल आदि मौजूद रहे।
नईम अब्बासी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *