बिसौली क्षेत्र के उच्च प्राथमिक विद्यालय हर्रायपुर में प्रधानाध्यापक, शिक्षकों और बच्चों को सम्मानित करते डाॅ. यशपाल सिंह, गायत्री परिवार के संजीव कुमार शर्मा।

बदायूँ: बिसौली क्षेत्र के उच्च प्राथमिक विद्यालय हर्रायपुर में ‘‘प्रतिभा सम्मान‘‘ समारोह का आयोजन हुआ। उत्कृष्ट कार्यों के लिए प्रधानाध्यापक, शिक्षक-शिक्षिकाओं और 69 होनहार बच्चों को सम्मानित किया गया। बालिकाओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए।
मुख्य अतिथि कृषि विज्ञान केंद्र उझानी के डाॅ. यशपाल सिंह ने विद्यालय को क्षेत्र की नजीर बताया। कहा कि ज्ञान के मंदिर से निकले मेधावी बच्चे देश के सर्वोत्तम नागरिक बनेंगे, नई ऊर्जा से गौरवशाली इतिहास भी रचेंगे।
विशिष्ट अतिथि गायत्री परिवार के संजीव कुमार शर्मा ने कहा कि बच्चों को संपत्ति नहीं, श्रेष्ठ संस्कार दें। उत्कृष्ट और महान बनाएं। भारतीय संस्कृति, ऋषि परंपराओं को समझें और निःस्वार्थ सेवा से भाग्य को सौभाग्य में बदलें।
प्राथमिक विद्यालय कूरखेड़ा कादरचैक की प्रधानाध्यापक कविता सिंह ने कहा कि हर्रायपुर के उच्च प्राथमिक विद्यालय से प्रदेश भर के विद्यालयों को संजीवनी मिली है।
निरीक्षण के दौरान बच्चों ने अतिथियों को बारी-बारी से अपने माॅडल्स की विस्तार से जानकारी दी। विद्यालय में विकसित टीवी कक्ष, कम्प्यूटर कक्ष, मीना कक्ष, विज्ञान प्रयोगशाला, स्मार्ट क्लास, स्माट पार्क, जल संरक्षण केंद्र, क्यारियों और तीन लाख की लागत से संपूर्ण प्रदेश में नंबर वन बनने जा रही स्मार्ट किचन का अवलोकन भी किया। बच्चों ने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाकर सभी का दिल जीत लिया।
अतिथियों ने रचनात्मक कार्यों के लिए (राष्ट्रपति शिक्षक सम्मान प्राप्त) शिक्षक कुंवरसेन, प्रधानाध्यापक सत्यपाल सिंह, अनुदेशक राजेश कुमार शाक्य, एसएमसी अध्यक्ष आराम सिंह, प्रतिभाशाली बच्चों और माह नबंवर 2018 में पूर्ण गणवेश में शत प्रतिशत उपस्थित रहे 69 बच्चों को प्रशस्ति पत्र व प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर सरदार सिंह, राम रहीस, कप्तान सिंह, आकाश, कुलदीप, सुरजन, कविता, अर्चना, नीलम, नीरवती, मोनिका, नरेश, ब्रजनंदन, सचिन आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *