बदायूँ: विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना से मिलेगा रोजगार

बदायूँः  जनपद के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के स्थानीय दस्तकारों एवं पारंपरिक कारीगरों के विकास के लिए शासन ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना शुरू की है। इस योजना के तहत 180 लाभार्थियों बढ़ई, नाई, लोहार, हलवाई, राजमिस्त्री एवं ज़री वर्क के हस्तशिल्पियों को 25-25 तथा दर्जी की पांच निःशुल्क टूल किट आजीविका के संसाधनों को सुढ़ीकरण बनाने के लिए वितरण की गईं।
शनिवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में  निःशुल्क टूल किट एवं प्रमाण पत्र का वितरण समारोह आयोजित हुआ। मुख्य अतिथि सदर विधायक महेश चंद्र गुप्ता ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत स्वरोजगार के लिए कुल 200 अभ्यर्थियों का चयन किया गया, जिसमें 20 लाभार्थी मुख्यमंत्री के हाथों से टूल किट प्राप्त कर चुके हैं। लाभार्थियों को एक सप्ताह का कार्य करने का प्रशिक्षण भी दिया जा चुका है। मुख्य अतिथि ने कहा कि सरकार सभी हुनरमंदों को रोजगार उपलब्ध करा रही है। बिना बिचौलिए के लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे धनराशि भी भेजी जा रही है। भारत एवं राज्य सरकार बिना भेदभाव के विकास कार्य कर रही है। जिला अध्यक्ष हरीश शाक्य ने कहा कि सरकार सबका साथ सबका विकास के आधार पर विकास कर रही है। उन्होंने कहा कि इस योजना से लाभार्थी मेहनत करके अपने पैरों पर खड़े होकर बेहतर जीवन यापन कर सकेंगे। सरकार सभी वर्गों के लोगों का सामान रूप से विकास कर रही है। जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने कहा कि हुनरमन्दो को बैंक से ऋण भी दिलाया जाएगा जिससे वह अपना रोजगार कर आजीविका के साधनों को सुदृढ़ कर सकें। उन्होंने कहा कि बेरोजगारों के लिए प्रशिक्षण देकर रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सरकार कई अवसर प्रदान कर रही है। इस अवसर पर  उपायुक्त उद्योग धर्मेन्द्र भास्कर सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *