दिल्ली: भारतीय नौसेना के वाइस एडमिरल गुरतेज सिंह पाब्बी पीवीएसएम एवीएसएम वीएसएम को आईआईटी मुंबई की ओर से विशिष्‍ट एलुमुनस पुरस्कार

दिल्ली:    भारतीय नौसेना के चीफ ऑफ मेटेरियल, वाइस एडमिरल गुरतेज सिंह पाब्बी, पीवीएसएम एवीएसएम वीएसएम को प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में उन्‍नयन और उद्योग/शिक्षाजगत के बीच सहयोग कायम करने की दिशा में उनकी चहुंमुखी और महत्‍वपूर्ण योगदान को ध्‍यान में रखते हुए आईआईटी मुंबई की ओर से आज प्रतिष्ठित एलुमुनस पुरस्कार से सम्‍मानित किया गया। वे फिलहाल नई दिल्‍ली स्थित नौसेना मुख्‍यालय में चीफ ऑफ मेटेरियल के पद पर नियुक्‍त हैं।

   वाइस एडमिरल गुरतेज सिंह पाब्बी ने एनआईटी (पूर्ववर्ती आरईसी) कुरूक्षेत्र से वर्ष 1980 में स्‍नातक किया था और बाद में आईआईटी मुंबई से सिस्‍टम एंड कंट्रोल में स्‍नातकोत्‍तर किया।

वाइस एडमिरल गुरतेज सिंह पाब्बी ने एयर इनडिपेंडेंट प्रोपल्‍सन, पीएलसी आधारित ऑटोमेशन एवं नियंत्रण और गैस टर्बाइनों के स्‍वदेशीकरण जैसी अत्‍याधुनिक नौसेना प्रौद्योगिकी का विकास करने और उन्‍हें लागू करने पर काफी जोर दिया था। उन्‍होंने मारपोल कमप्‍लायंस, डीजल निकास उत्सर्जन नियंत्रण और जैव ईंधन के उपयोग में जैसे नौसेना के हरित अभियान में अग्रणी भूमिका निभाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *