नाराज पति को ढूंढने निकली युवती की इज्जत हुई तार तार/बेंडर और रेलवे कर्मी को पीटकर किया पुलिस के हवाले

बदायूँ/फैजगंज बेहटा:  रेलवे की कोठरी में रेप हुआ उसका द्वार खुलता है फैजगंज थाना क्षेत्र में इसलिए रेलवे बिभाग ने थाना फैजगंज बेहटा को केस सौंपा ।

बदायूँ थाना फैजगंज बेहटा क्षेत्र में पति पत्नी के बीच घर में हुई अनवन से नाराज होकर पति चला गया जिसको को खोजने निकली महिला से सामूहिक बलात्कार की घटना को अंजाम दिया गया। वही पुलिस ने दोनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पीड़िता का मेडिकल कराने जिला मुख्यालय भेज दिया है। घटना का मौका मुआयना रेलवे सीओ व बिसौली सीओ ने किया । घटना का मुकदमा थाना फैजगंज में दर्ज किया गया है। तथा दोनों आरोपियों को पुलिस ने रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पीड़ित महिला ने बताया कि शाम 6:00 बजे उसका पति घर से नाराज होकर रेल से कटने की बात कह कर घर से चला आया था। थोड़ी देर बाद ही महिला उसे ढूंढते ढूंढते बिशारतगंज रेलवे स्टेशन पर आई। पति को खोजने के लिए वह दिल्ली-बरेली पैसेंजर ट्रेन में खोजने लगी। वही ट्रेन वहां से चल पड़ी तभी उसकी मुलाकात रेल में चने मूंगफली बेचने वाले बिशारतगंज निवासी नरेश पुत्र रामपाल से हो गई उसने बहला-फुसलाकर पति को ढूंढने का लालच देकर रेलवे स्टेशन सिसरका पर महिला को उतार लिया और घर को वापस जाने के लिए चंदौसी की ओर जाने वाली सद्भावना ट्रेन से चलने को कहा। महिला को विश्वास में लेकर रेलवे स्टेशन पर अपने परिचित चतुर्थ श्रेणी रेलवे कर्मचारी अमर सिंह से मिलकर दोनों आरोपी उसे समीपवर्ती रेलवे स्टेशन पर बनी एक कोठरी में ले जाकर दोनों ने बारी-बारी से सामूहिक दुष्कर्म किया। महिला किसी तरह आरोपियों से छूट कर पास के गांव पिपरिया में पहुंची और पूरी घटना की जानकारी गांव वासियों को दी गांव वासियों ने बिना देर करे महिला के साथ जाकर दोनों बलात्कारियों को जमकर पीटा और उसके बाद पुलिस को सौंप दिया। घटना की सूचना स्टेशन मास्टर जाकिर अली को पता चली तो उन्होंने तत्काल रेलवे थाना बरेली व स्थानीय पुलिस को सूचना दी सूचना पर रेलवे सीओ बरेली उमेश चंद्र त्रिपाठी व थाना अध्यक्ष फैजगंज को घटना के बारे में अवगत कराया। वहीं पुलिस ने महिला को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *