बदायूँ: लोकपाल की नियुक्ति पर हर्ष/चुनाव के दृष्टिगत बदायूं के नागरिक 30 मार्च 2019 को जारी करेंगे दृष्टि पत्र/भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के तत्वावधान में होली के पावन पर्व पर स्नेह मिलन कार्यक्रम का आयोजन अभियान के शिवपुरम स्थित कार्यालय पर आयोजित किया गया ।

बदायूँ: कार्यक्रम में भारत सरकार द्वारा देश के प्रथम लोकपाल की नियुक्ति पर हर्ष व्यक्त किया गया। साथ ही आम चुनाव के दृष्टिगत बदायूं के नागरिकों की ओर से एक दृष्टिपत्र जारी करने का निर्णय लिया गया।

इस अवसर पर विचार व्यक्त करते हुए भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के मुख्य प्रवर्तक हरि प्रताप सिंह राठोड़ एडवोकेट ने कहा कि देश में जितने भी लोक कल्याणकारी व्यवस्थाएं बनायी गई,उनका श्रेय सामाजिक कार्यकर्ताओं को जाता है। सूचना का अधिकार, सिटीजन चार्टर/जनहित गारंटी कानून, नोटा और लोकपाल कानून तथा वर्तमान में लोकपाल की नियुक्ति यह सब सामाजिक कार्यकर्ताओं के प्रयास का ही परिणाम है। राजनैतिक दल दृढ़ संकल्प शक्ति के अभाव में समय पर लोक हितकारी निर्णय नहीं ले पाते हैं बल्कि वोट के नफा नुकसान की गणना करते करते अनिर्णय का शिकार हो जाते हैं। दुर्भाग्य का विषय है कि इस देश के शक्ति सम्पन्न व्यक्तियों में इच्छाशक्ति का अभाव है। शक्ति सम्पन्न व्यक्तियों द्वारा लोक कल्याणकारी व्यवस्थाओं को कमजोर करने के निरन्तर प्रयास किए जाते रहे हैं, सूचना के कानून को निष्प्रभावी बनाने के प्रयास चल रहे हैं, जनहित गारंटी कानून पूर्णतया निष्क्रिय कर दिया है। हर्ष का विषय है कि सामाजिक आंदोलनों के परिणामस्वरूप , लम्बी प्रतीक्षा के बाद देश को लोकपाल मिला, शीघ्र ही देश के हर राज्य में लोकायुक्त की भी नियुक्तियां की जाये।

अभियान के मार्गदर्शक एच एल झा ने कहा कि आम चुनाव के दृष्टिगत बदायूं जनपद के नागरिक अपना घोषणापत्र जारी करके जनपद के सार्वभौमिक विकास के स्वरूप को राजनैतिक दलों और प्रत्याशियों के समक्ष रखेंगे। राजनैतिक दलों और प्रत्याशियों की असहमति पर ईवीएम मशीन का आखिरी बटन दबाने से भी परहेज नहीं करना है।

इस अवसर पर एच एल झा, धनपाल सिंह,एम एल गुप्ता,डालभगवान सिंह, महेश चंद्र, सतेन्द्र सिंह, जयकिशन लाल शर्मा, सुरेश पाल सिंह चौहान, अखिलेश सिंह,सत्य प्रकाश सैनी,फरीद अहमद, जगमोहन सिंह राघव, सुशील कुमार सिंह,आर जी गोस्वामी, अनिल अग्रवाल,विनय कुमार सिंह,, विजय रतन सिंह, रतनवीर सिंह आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *