जरीफनगर: आवोर्शन के बाद महिला की हालत विगडी/महिला की मौत/प्राइवेट अस्पताल मे शब रख कर परिजनो ने काटा हंगामा । (सोमवीर सिंह यादव की रिपोर्ट)

बदायूँ: थाना जरीफनगर क्षेत्र के एक गाँव की महिला की हालत बिखडने से हुई मौत । महिला के परिजनो ने प्राइवेट अस्पताल मे शव रख कर डाक्टर के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए कई घंटे हंगामा काटा पुलिस ने समझा बुझाकर मामला शान्त किया ।पंचनामा भरकर शब को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया । सीओ व एसपीआर ने किया मुआयना ।
थाना जरीफनगर क्षेत्र के गाँव सिरसा खुर्द के श्री कृष्ण ने थाने मे तहरीर देकर बताया कि शनिवार को दोपहर मे अपनी पत्नी मेनका को कस्बा दहगबा मे स्थिति एक प्राइवेट अस्पताल श्री कृष्णा हेल्थकेयर सेन्टर मे दवा दिलवाने आया था । तभी श्री कृष्णा हेल्थकेयर सेन्टर पर मौजूद डा गिरधारी डा अंकित व डा शशि बाला ने आवोर्शन करने को कहा और तीन हजार रुपये खर्च होने बात कही । मेरे पास पैसे कम थे तो मेने फोन के द्वारा गाँव से किसी से तीन हजार रुपये मंगाकर डा गिरधारी के पास जमा कर दिये । और शनिवार को डा गिरधारी डा अंकित व डा शशि बाला ने आवोरशन करके मुझे से पत्नी को घर ले जाने को कहा । मै अपनी पत्नी को घर लेकर चला गया । रविवार को लगभग दस बजे जब पत्नी की बिगड़ने लगी तो मैने फोन से डा गिरधारी से फोन पर सम्पर्क साधकर हालत के बारे मे अबगत कराया । डा गिरधारी व शशि बाला ने बहार ले जाने को कहा । और मे किराये की गाड़ी से अपनी पत्नी को सहसबान ले जा रहा है था कि रास्ते में दम तोड़ दिया । मौत कि खबर सुनकर परिवार मै कोरहम मच गया ।
परिजनो ने शब को अस्पताल में लाकर रख दिया । और हंगामा काटने लगे । परिजनो की डाक्टर गिरधारी नोक झोंक होनी शुरू हो गई । भीड का फायदा उठाकर डा गिरधारी बाइक लेकर फरार हो गया । जबकि शब के साथ आये परिजनो ने लेडिज डाक्टर को दबोच लिया । और बेहोश होने का बहाना बनाकर लेडिज डाक्टर भी रफूचक्कर हो गई ।
तभी परिजनो ने श्री कृष्णा हेल्थकेयर सेन्टर के सामने हंगामा काटना शुरू कर दिया । सूचना पर पहुंची पुलिस ने भीड को समझा बुझाकर मामला शान्त किया । सहसबान सीओ व एसपीआर ने भी पहुचकर मुआयना किया । और पता चला की इससे पहले भी इसी तरह के एक दो मामले हो चुके है और सीएसओ ने भी लगभग डेड वर्ष पहले श्री कृष्णा हेल्थकेयर सेन्टर अस्पताल पर छापा मारकर कारबाही की थी । उसके बाद फर्जी डाक्टरों ने विभाग के भष्ट्र अधिकारियों से मिलकर अस्पताल मे गोरख धंधा फिर शुरू कर दिया । इसे सुनकर सहसबान सीओ ने प्राइवेट अस्पताल श्री कृष्णा हेल्थकेयर सेन्टर को सीज करने के आदेश दिए । जरीफनगर पुलिस ने सहसबान सीओ की मौजूदगी में अस्पताल को सीज कर दिया । फर्जी बाड़ा से चला रहे फर्जी डाक्टरों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर लिया । और फर्जी डाक्टरों की तलाश में पुलिस जुट गयी है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *