बिल्सी: पेडो को लगाने के बाद सींचना बहुत जरूरी:-वीरेंद्र पाल (नईम अब्बासी की रिपोर्ट)

बदायूँ/बिल्सी:-नगर में विगत कई वर्षों से चल रही अरिहन्त वृक्षारोपण समिति की एक मासिक बैठक तहसील रोड स्थित नारायण ग्रीन हाउस में संस्थापक/जिलाध्यक्ष प्रशान्त जैन की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई । जिसमें समिति के पदाधिकारियों एवं सदस्यों को महत्वपूर्ण जानकारी देते हुए पूर्व में उनके द्वारा लगाए गए पोधो को सीचने पर जोर दिया गया । यहां जिला कोषाध्यक्ष वीरेन्द्र पाल सक्सेना ने लोगो को जागरूक करते हुए बताया कि लोग पौधारोपण तोह कर लेते है उसके बाद उसकी देखरेख का ध्यान नही रखते ऐसी स्थिति में पौधा सूख जाता है और पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य की पूर्ति नही हो पाती इसलिए लोगो को चाहिए कि लगाए गए पेडो को वे जिम्मेदारी के साथ नियमित सींचे भी ।
समिति जिलाध्यक्ष प्रशान्त जैन ने कहा ,की कई बार मौसम परिवर्तन में पेड़-पौधे तक झुलस जाते हैं। बोले कि आपने अक्सर देखा होगा कि घरों में गमलों में लगे पौधों को इस मौसम में यदि कुछ दिन लगातार पानी न दिया जाए तो वह मर जाते हैं। ऐसे में जरूरी है कि पौधों को बचाने के लिए उनमें लगातार पानी तो दिया जाए ही, लेकिन कई ऐसे अन्य तरीके हैं जो उन्हें बचाने के लिए कारगर होते हैं, जिनमें उर्वरक तत्व और खाद आदि भी शामिल हैं क्योंकि घरों के अंदर लगाए जाने वाले फूल-पौधे न सिर्फ घरों की सुंदरता बढ़ाते हैं, बल्कि यह स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से भी काफी महत्व रखते हैं।
– जब बाहर तेज झुलसाने वाली गर्मी हो तो अपने घरों में आंतरिक सज्जा के रूप में कुछ पौधे रख सकते हैं। वह आपको स्वच्छता और हरियाली का एहसास कराते हैं। साथ ही, वह प्रकृति से जुड़े रहने का ज्ञान भी कराते हैं।
– घरों में रखे जाने वाले पौधों को सूर्य की रोशनी की आवश्यकता होती है। इसलिए इसका स्थान खिड़की के पास हो ताकि इन्हें धूप मिल सके। लेकिन साथ ही साथ इनमें समय-समय पर पानी देते रहें।
इस मौके पर डॉ श्री कृष्ण गुप्ता ,अनुज शर्मा ,प्रतीक शर्मा,अनुभव वार्ष्णेय,साजन गुप्ता समेत कई पदाधिकारी मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *