बदायूँ: अनुपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों के वेतन आहरण पर रोक।

बदायूँ : जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह के औचक निरीक्षण में जिला कृषि रक्षा कार्यालय में बड़े बाबू विनीत शर्मा, लिपिक शालू शर्मा,  वरिष्ठ सहायक अनिल कुमार एवं वाहन चालक वीरेंद्र, अनुपस्थित मिले। श्रम परिवर्तन कार्यालय में जिला श्रम प्रवर्तन अधिकारी वीरेंद्र कुमार, बीके शर्मा एवं हकीकत मियां अनुपस्थित मिले। डीएम ने इन सभी कार्यालयों के अधिकारी एवं कर्मचारियों को अनुपस्थित पाए जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए स्पष्टीकरण के निर्देश एवं अग्रिम कार्रवाई तक वेतन आहरण पर रोक लगा दी है। कार्यालयों एवं परिसरों को पांच दिनों में साफ-सुथरा करें और विद्युत वायरिंग सही ढंग से स्थापित कराई जाए।
सोमवार को जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने जिला जिला कृषि रक्षा एवं जिला श्रम प्रवर्तन कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। कार्यालय में रंगाई पुताई एवं परिसर में गंदगी देखकर कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि पांच दिनों के बाद पुनः निरीक्षण करेंगे तब तक कार्यालय के विद्युत तार लाइन एवं परिसर साफ सुथरा होना चाहिए। तत्पश्चात उन्होंने जिला श्रम प्रवर्तन अधिकारी कार्यालय का निरीक्षण किया तो जिला श्रम अधिकारी एवं दो अन्य कर्मचारियों को अनुपस्थित पाए जाने पर तथा कार्यालय में टूटा फूटा फर्नीचर एवं दस्तावेजों पर धूल जमी होने पर कड़ी फटकार लगाते हुए निर्देश दिया कि श्रम पदाधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई की जाए तथा यह सब लोग मुख्यालय पर ना रहकर अन्य स्थानों से प्रतिदिन आते हैं जिससे लाभार्थियों को योजनाओं का पूरा लाभ नहीं मिल पाता है। उन्होंने कहा कि जितने भी अधिकारी दिन प्रतिदिन अन्य जनपदों से आकर यहां ड्यूटी करते हैं तो ऐसे अधिकारियों के निलंबन के लिए संबंधित विभाग को पत्र लिखा जाए। श्रम प्रवर्तन कार्यालय में श्रमिकों का पंजीकरण की स्थिति पूरे वर्ष की 3670 पाए जाने पर असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि इसमें बहुत बड़ी लापरवाही की जा रही है जिससे सभी श्रमिकों का पंजीकरण नहीं हो पा रहा है और उनको पूरा लाभ नहीं मिल रहा है। डीएम ने कलेक्ट्रेट परिसर का निरीक्षण किया तो परिसर में घास एवं गंदगी पाए जाने पर नाजिर को जल्द से जल्द साफ कराने के निर्देश दिए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *