बदायूँ: सपा सांसद धर्मेन्द्र यादव ने भाजपा सरकार पर बोला हमला/5000 करोड़ रूपये खर्च करने के बावजूद केंद्र सरकार अभी तक जातीय जनगणना नही करा पाई

बदायूँ: बदायूँ लोकसभा क्षेत्र के सांसद मा0 धर्मेन्द्र यादव ने आज संसद के शीतकालीन सत्र के आखिरी दिन सामान्य वर्ग के आरक्षण के बिल संशोधन पर भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि यह बिल संशोधन जिस तरीके से,जिस समय पर वे जिस नीयत से लाया गया है उस पर एक गम्भीर सवाल खड़ा होता है,5000 करोड़ रूपये खर्च करने के बावजूद केंद्र सरकार अभी तक जातीय जनगणना नही करा पाई है,जिसकी मांग समाजवादी पार्टी पिछले काफी समय से करती आ रही है,जबकि सत्यता ये है कि पिछड़े वर्ग की आबादी 65%होने के कारण केंद्र की भाजपा सरकार उसको सार्वजनिक करने से डर रही है,समाजवादी पार्टी ये मांग करती है कि सामान्य,पिछड़े, दलित व अल्पसंख्यक आदि सभी वर्गों को उनकी आबादी के अनुपात में 100 फ़ीसदी आरक्षण दिया जाए।इस बिल के बारे में बड़ी जिम्मेदारी से कहना चाहता हूं कि जो लोग अभी तक आरक्षण का विरोध करते रहे वही लोग अब आरक्षण की मांग कर रहे हैं इसका अर्थ है कि डॉ0 राम मनोहर लोहिया,मा0 मुलायम सिंह यादव व मा0 अखिलेश यादव जैसे समाजवादी अभी तक जो आरक्षण की मांग करते रहे वह सही है।

आगे कहा कि भाजपा के 5 साल की प्रचण्ड बहुमत की सरकार में सदन के आखिरी दिन ये बिल संशोधन लाया गया है उससे केंद्र की भाजपा सरकार की जो संदेहास्पद  नियत है वो देश की जनता समझ चुकी है।केंद्र की भाजपा सरकार की कैबिनेट,केंद्रीय सचिवालय,प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों व विश्वविद्यालयों के वाइस चांसलर की नियुक्तियों में असमानता भाजपा की संकुचित मानसिकता को दर्शाता है।ugc के रोस्टर को सही किया जाना चाहिये ताकि अनुसूचित जाति,पिछड़ी जाति व अल्पसंख्यकों के साथ न्याय हो सके।भाजपा नेताओं ने चुनाव से पूर्व जो वादे किया उनके अनुसार कहाँ हैं 10 करोड़ रोज़गार।
केंद्रीय सेवाओं  में अभी 24 लाख रिक्तियां हैं,उसमे बैकलॉग को तुरंत भरा जाए।केंद्र की भाजपा सरकार के पिछले 5 साल के कार्यकाल में समाज के दबे कुचले,पिछड़े,दलित व अल्पसंख्यकों  सहित समाज के हर वर्ग के साथ अन्याय हुआ है,प्रत्येक वर्ग के आबादी के हिसाब से 100 फीसदी आरक्षण की मांग के साथ समाजवादी पार्टी इस बिल का समर्थन करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *