उझानीः श्री ओम प्रकाश शर्मा इंटर कॉलेज अब्दुल्लागंज में अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर शिक्षक शिक्षिकाओं और बच्चों को सम्मानित किया गया। (अंजार अहमद की रिपोर्ट)

बदायूँ/उझानीः श्री ओम प्रकाश शर्मा इंटर कॉलेज अब्दुल्लागंज में अंतरराष्ट्रीय हिंदी दिवस पर शिक्षक शिक्षिकाओं और बच्चों को सम्मानित किया गया। बच्चों ने देश भक्ति गीत और शानदार कविताओं की प्रस्तुति दी। प्रबंधक धर्मेंद्र कुमार शर्मा ने कहा कि हिंदी सरल, सौम्य और शिष्टाचार सिखाने वाली भाषा है। देश के महान साहित्यकारों और महापुरुषों ने हिंदी भाषा में गीत और कविताओं और श्रेष्ठ साहित्य लिखकर विश्व का मार्गदर्शन किया। गायत्री परिवार के संजीव कुमार शर्मा ने कहा की हिंदी हृदयस्पर्शी राष्ट्र की गौरवपूर्ण और विश्व की दूसरी सबसे बड़ी भाषा है। राष्ट्र को समर्थ और सशक्त बनाने में हिंदी भाषा का अतुलनीय योगदान है। भारत को विश्व गुरु बनाने में मातृभाषा ही है। प्रधानाचार्य अनिल कुमार शर्मा ने कहा कि हिंदी संपूर्ण भारत की प्राण ऊर्जा है। शिष्टाचार का संदेश देकर शहरी और ग्रामीण अंचलों में रहने वाले लोगों के रग-रग में बसी है। शिक्षक आनंद सिंह राघव ने कहा कि युवा शक्ति हिंदी की गौरव गाथा को पहचाने। भारत की अखंडता, संस्कृति, प्रखर व्यक्तित्व और नैतिक संस्कार हिंदी से पुष्प और पल्लवित होते हैं। शिक्षक आजब सिंह यादव ने कहा कि भारत और अन्य देशों में 90 करोड़ से अधिक लोग हिंदी भाषा बोलते, पढ़ते और लिखते हैं। मातृभाषा और राष्ट्रभाषा का सदैव सम्मान करना चाहिए। इस मौके पर शिक्षक रवीश शर्मा, संदीप कुमार, रश्मि यादव, रामस्नेही शर्मा, शालिनी शर्मा, रश्मि यादव, स्नेह लता शर्मा, नीलोफर, आसिया, सुमनलता, नेम प्रकाश, पूनम कश्यप, रश्मि उपाध्याय, मनोज सक्सैना, कौशल कांत राठौर, सुरेश यादव, रश्मि उपाध्याय आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *