दिल्ली: कवयित्री सोनरूपा विशाल का यात्रा संस्मरण का विश्व पुस्तक मेले में हुआ विमोचन।

दिल्ली/बदायूँ: कल विश्व पुस्तक मेले में कवयित्री एवं लेखिका सोनरूपा विशाल के यात्रा वृतांत ‘अमेरिका और पैंतालीस दिन’ का देश के विख्यात कवि पद्मश्री अशोक चक्रधर ने लोकार्पण किया!पुस्तक की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि इस यात्रा वृतांत में जिस तरह  सोनरूपा ने अपने दृष्टिकोण से अमेरिका को देखा है वो अद्भुत है!मन के संवेगों और एहसास को वो बेहद सुंदरता से शब्दों में पिरोती हुई नज़र आती हैं!इस वृतांत के हर चैप्टर की शुरुआत उन्होंने एक शेर से की है इससे पुस्तक की ख़ूबसूरती और वज़न में इज़ाफ़ा हुआ है!उन्होंने कहा कि डॉ उर्मिलेश की विरासत को जिस तरह से सोनरूपा ने संभाला है वो क़ाबिले तारीफ़ है!पुस्तक चर्चा का सञ्चालन करते हुए प्रसिद्ध व्यंगकार डॉ सर्वेश अस्थाना ने सोनरूपा को एक मुलायम अभिव्यक्ति की कवयित्री बताया जो गद्य में भी उतनी भी सक्षम है जितनी पद्य में!पुस्तक का लोकार्पण करते हुए देश विदेश में सर्वाधिक लोकप्रिय प्रख्यात कवि और कुशल वक्ता डॉ कुमार विश्वास ने कहा कि सोनरूपा का शुमार देश की सर्वाधिक मौलिक एवं उत्कृष्ट कवयित्री में है!उन्होंने अपनी अमेरिका की 45 दिन की यात्रा को जिस रोचक ढंग से लिखा है उसके लिए उन्हें बहुत बहुत बधाई और आशीष पुस्तक के प्रकाशक हिन्द युग्म के शैलेश भारतवासी को भी उन्होंने बधाई देते हुए कहा कि वे निरतंर जिस तरह बेस्ट सेलर्स किताबें दे रहे हैं वो प्रकाशन को दिन ब दिन बुलंदियों की ओर ले जा रहा है! प्रसिद्ध कहानीकार किशोर चौधरी ने सोनरूपा के बहुआयामी व्यक्तित्व को उनकी ख़ासियत बताया!सोनरूपा ने अपनी दूसरी पुस्तक के बारे में बोलते हुए कहा कि क्यों कि अमेरिका यात्रा के अनुभव मेरे लिए अविस्मरणीय थे और वहाँ की कुछ विशेषताओं का ज़िक्र मैं करना ज़रूरी समझती थी इसीलिए मेरा मन हुआ कि इस यात्रा को एक किताब के रूप में सहेजा जाए!कवि प्रवीण शुक्ल ने सोनरूपा की सहज और चित्त हर लेखनी की प्रशंसा करते हुए उन्हें बधाई दी एवं इस बेहद सार्थक चर्चा में शामिल सभी अथितियों का आभार व्यक्त किया!
इस अवसर पर हिन्द युग्म के प्रकाशक शैलेश भारतवासी,प्रख्यात लेखक नीलोत्पल मृणाल,नामवर आलोचक,समीक्षक डॉ ओम निश्छल,कलाकार मंजुला चतुर्वेदी,व्यंगकार अनूप श्रीवास्तव,शायरा सिया सचदेव,लेखिका विजयलक्ष्मी तनवीर समेत बहुत से गणमान्य लोग उपस्थित रहे!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *